Wednesday, August 17, 2022
spot_img
Hometrendingग्रामीण अदालत का फरमान, हत्या के दोषी शख्स को लोगों ने जिंदा...

ग्रामीण अदालत का फरमान, हत्या के दोषी शख्स को लोगों ने जिंदा जला दिया

ग्रामीण अदालत का फरमान, हत्या के दोषी शख्स को लोगों ने जिंदा जला दिया

असम के नगांव जिले से एक ऐसा मामला सामने आया है जहां एक शख्स को जिंदा जला दिया गया। यह सब तब हुआ जब उसे एक महिला का हत्या का दोषी पाया गया। इसके बाद भीड़ इकठ्ठा हुई और ग्रामीण अदालत लगाई गई। इसी दौरान तय हुआ कि यह शख्स इस हत्या का दोषी है इसलिए इसे जिंदा जलाया जाएगा।

दरअसल, यह घटना असम के नगांव जिले में स्थित एक गांव की है। रिपोर्ट के मुताबिक घटना के बाद मौके पर पहुंचे एक पुलिस अधिकारी ने बताया क‍ि नगांव जिले के बोर लालुंग इलाके का यह मामला है। यह घटना तब हुई जब इलाके में एक अवैध ग्रामीण अदालत लगाई गई थी। इस दौरान एक शख्स को हत्या का दोषी पाए जाने के बाद उसे जिंदा जला दिया गया और बाद में उसके शव को दफना दिया गया।

उन्होंने यह भी बताया कि कुछ ग्रामीणों ने दावा किया कि शख्स पर गांव में एक महिला की हत्या करने का संदेह था। बताया गया क‍ि सबिता पाटोर नाम की एक महिला की कुछ दिन पहले अस्वाभाविक परिस्थितियों में मौत हो गई थी। स्थानीय गांव की अदालत ने मामला उठाया था जिसमें इस शख्स ने कथित तौर पर महिला की हत्या करना स्वीकार किया था।

जैसे ही उसने हत्या की बार स्वीकार की वहां मौजूद लोग गुस्सा हो गए। इसके बाद देखते ही देखते कुछ लोगों ने उसे आग लगा दी और यह तब हुआ जब अवैध ग्रामीण अदालत ने सजा के तौर पर जिंदा जलाने का फरमान दिया। शख्स को जिंदा जला दिया गया। इसके बाद उसके शव को दफना दिया गया। मौके पर पहुंची पुल‍िस ने शव बरामद कर लिया गया है। पुल‍िस ने मामले में कुछ लोगों को हिरासत में भी ल‍िया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments