spot_img
HometrendingNikay Chunav : पुरूष उम्मीदवारों पर भारी पड़ रही महिलाएं, वरिष्ठता का...

Nikay Chunav : पुरूष उम्मीदवारों पर भारी पड़ रही महिलाएं, वरिष्ठता का भी भाजपा ने रखा ध्यान 

27 नए चेहरों को दिया मौका 

बैतूल – जिला मुख्यालय की बैतूल नगर पालिका परिषद में कुल 33 वार्डों में आरक्षण के बाद 16 वार्ड विभिन्न वर्गों की महिलाओं के लिए आरक्षित घोषित हो गए थे। भाजपा ने 33 वार्डों के लिए पहले 21 फिर 8 और कल शेष बचे 4 वार्डों में अपने प्रत्याशियों की सूची जारी करी। सूची पर ध्यान देने से यह स्पष्ट हुआ कि चुनाव आयोग ने तो 33 में से 16 वार्ड ही महिलाओं ने लिए रखे थे लेकिन भाजपा ने 33 में से 18 वार्डों में महिला उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं। वहीं कई पूर्व भाजपा पार्षदों की पत्नियों को भी टिकट दी है। क्योंकि ये वार्ड पहले अनारक्षित थे और इस बार महिला वर्ग के लिए आरक्षित हो गए है ।

इस बार भाजपा में 33 वार्डों में पार्षद पद के दावेदारों की लम्बी लाईन थी जिसमें से चयन करने के बाद घोषणा करने में पार्टी को एक हफ्ते का समय लग गया। एक तरफ जहां 70 प्रतिशत नए चेहरों को मौका दिया है, वही नपा में सीनियर हो चुके नेताओं को भी एक बार फिर मौका दिया है।

दोनों ममता लड़ेंंगी अनारक्षित वार्ड से

भाजपा ने दो अनारक्षित वार्डों में महिला उम्मीदवारों पर भरोसा किया है। नगर के सदर क्षेत्र के वार्ड क्रं. 20 भगतसिंग अनारक्षित से पूर्व विधायक प्रतिनिधि भाजपा नेता लेखचंद यादव को टिकट ना देते हुए महिला नेत्री एवं पूर्व पार्षद ममता मूलचंद यादव को टिकट दी है। वहीं गंज क्षेत्र के वार्ड क्रं. 32 शंकर वार्ड अनारक्षित से जिला भाजपा महिला मोर्चा की अध्यक्ष एवं पूर्व पार्षद ममता बबलू मालवीय को अधिकृत उम्मीदवार घोषित किया है। जबकि पूर्व में यहां से भाजपा के रविंद्र ओमकार पार्षद थे।

वरिष्ठता का भी भाजपा ने रखा ध्यान

33 में से सिर्फ 6 पुराने नेताओं को विभिन्न वार्डों से टिकट मिली है। वहीं 27 नए और युवा चेहरो को भाजपा ने चुनाव मैदान में उतारा है। पुराने चेहरो में 2005 में नगर पालिका अध्यक्ष निर्वाचित हुई पार्वतीबाई बारस्कर को वार्ड क्रं. 19 चंद्रशेखर, 2010 में नपा उपाध्यक्ष निर्वाचित हुए रजनी राजेश वर्मा को वार्ड क्रं. 14 प्रताप वार्ड, पूर्व पार्षद नितेश परिहार वार्ड क्रं. 22 टैगोर वार्ड, पूर्व पार्षद ममता मालवीय को वार्ड क्रं. 32 शंकर वार्ड को, पूर्व पार्षद ममता यादव को वार्ड क्रं. 20 भगतसिंग से एक बार फिर टिकट मिली है। वहीं 2010 में भाजपा की टिकट पर नपाध्यक्ष का चुनाव लड़े तरूण ठाकरे वार्ड क्रं. 10 कृष्णपुरा से पार्षद पद पर अपनी किस्मत आजमा रहे हें।

नए चेहरो का भाजपा को मिल सकता फायदा

राजनैतिक समीक्षकों का मानना है कि एक तरफ भाजपा प्रत्याशियों की सूची पांच दिन पहले घोषित करके प्रचार-प्रसार में कांग्रेस से काफी आगे बढ़ गई है वहीं कांग्रेस नाम वापसी तक अपने उम्मीदवार तय नहीं कर पाई है। कल 22 जून नाम वापसी की अंतिम तारीख है। समीक्षकों का यह भी मानना है कि भाजपा ने जिस तरह से 33 में से 27 नए चेहरे चुनाव में उतारे हैं उसका फायदा भाजपा को मिलना तय है। क्योंकि भाजपा के पूर्व पार्षदों की छवि से ये नए उम्मीदवार प्रभावित नहीं होंगे।

पार्षद पति/पत्नियां भी चुनाव मैदान में

कई वार्ड महिलाओं के लिए आरक्षित होने के कारण भाजपा ने उस वार्ड के पार्षद की पत्नी को उम्मीदवार बनाया है। इनमें वार्ड क्रं. 11 मोती वार्ड से श्रीमती कल्पना कैलाश धोटे, वार्ड क्रमांक 13 अम्बेडकर वार्ड से भाजपा पार्षद रही श्रीमती ममता महेश राठौर के स्थान पर महेश राठौर, वार्ड क्रं. 14 प्रताप वार्ड से श्रीमती रजनी राजेश वर्मा, वार्ड क्रं. 17 आर्यपुरा से अभी तक भाजपा पार्षद रहे शादिक मंसूरी के स्थान पर उनकी बहू श्रीमती नवशाह मंसूरी, पटेल वार्ड क्रमांक 20 से श्रीमती रेणुका पवन यादव, वार्ड क्रं. 31 विनोबा से श्रीमती शीला शशिकांत महाले चुनाव लड़ रही हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular