spot_img
Hometrendingडाइट टिप्स: ये 5 चीजें रखेगी कोविड-मंकीपॉक्स समेत ये 4 जानलेवा वायरस,...

डाइट टिप्स: ये 5 चीजें रखेगी कोविड-मंकीपॉक्स समेत ये 4 जानलेवा वायरस, तुरंत करें सेवन।

कोरोना (COVID-19) के तीसरे लहर के बाद मंकीपॉक्स(Monkeypox), टौमेटो फीवर, स्वाइन फ्लू, जैसे वायरस का अचानक प्रकोप वैश्विक स्तर पर चिंता का विषय बना हुआ है। हाल ही में, देश की राजधानी दिल्ली में मंकीपॉक्स का पहला मामला मिला है। समाचार एजेंसियों के अनुसार, मंकीपॉक्स के लक्षण हल्के होते हैं और बुखार, सिरदर्द, मांसपेशियों में दर्द, पीठ दर्द और सूजन लिम्फ नोड्स के साथ लगभग 2-3 सप्ताह तक रह सकते हैं। वहीं, टौमेटो फीवर बच्चों में होने वाली बीमारी है जिसमें बुखार के साथ टमाटर की तरह शरीर पर लाल चकते होने लगते हैं। इसके साथ ही स्वाइन फ्लू भी एक बार फिर तेजी से फैल रहा है। हाल ही में इससे एक महिला की मौत की खबर भी सामने आयी है।

ऐसे में इन जानलेवा बीमारियों से खुद को बचाने के लिए विशेषज्ञ इम्युनिटी बढ़ाने वाले खाद्य पदार्थों का सेवन करने की सलाह देते हैं। जो कि वायरस से ठीक होने वालों के लिए भी बेहतर माना जा रहा है। हम आपके लिए कुछ ऐसे फूड्स की लिस्ट लेकर आए हैं जो बेहतर रिकवरी में मदद कर सकते हैं और इम्युनिटी को भी बूस्ट कर सकते हैं।

पपीते में मौजूद पॉलीफेनोल्स शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। ये ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करने और शरीर को बीमारी से लड़ने में मदद कर सकते हैं। इसके साथ ही विटामिन सी से भरपूर अन्य खाद्य पदार्थ जैसे नींबू, आंवला, संतरा और चेरी भी शरीर के लिए स्वस्थ होते हैं। क्योंकि वे विभिन्न सेलुलर कार्यों का समर्थन करके प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में मदद करते हैं।

तेज पत्ता एंटी-इंफ्लेमेटरी, जीवाणुरोधी, मूत्रवर्धक और पाचन गुणों से भरपूर होता है। इनमें यूजेनॉल नामक पदार्थ होता है, जिसे अक्सर हल्के दर्द निवारक और एंटीसेप्टिक के रूप में प्रयोग किया जाता है। खांसी, फ्लू और अस्थमा के इलाज में इन पत्तियों को अत्यधिक प्रभावी दिखाया गया है। इसके साथ ही यह डायरिया, पेट फूलना और जी मचलना जैसी पाचन समस्याओं की रोकथाम का भी काम करता है।

टकसाल के पत्ते
पुदीने की पत्तियां मेन्थॉल से भरपूर होती हैं। यह इसके प्राथमिक यौगिकों में से एक है जो मांसपेशियों और पाचन तंत्र को आराम देने में मदद करता है। शोध के अनुसार, पुदीने के पत्तों का नियमित सेवन साइनस संक्रमण, खांसी, कंजेशन और अस्थमा जैसी सांस की सामान्य बीमारियों के इलाज में भी सहायक होता है। पुदीने की पत्तियां इम्यून सिस्टम को मजबूत करने का भी काम करती हैं।

तुलसी के ताजे पत्ते
ताजी तुलसी एंटी-इंफ्लेमेटरी, एंटीबैक्टीरियल और एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होती है जो प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करती है और सिरदर्द को शांत करती है। यह जड़ी बूटी सामान्य सर्दी और फ्लू के इलाज में भी उपयोगी है।

दही रोग से लड़ने के लिए आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को उत्तेजित कर सकता है। दही भी विटामिन डी का एक स्रोत है। विटामिन डी प्रतिरक्षा प्रणाली को विनियमित करने में मदद करता है और माना जाता है कि यह रोग के खिलाफ हमारे शरीर की प्राकृतिक सुरक्षा को मजबूत करता है।

RELATED ARTICLES

Most Popular