spot_img
HometrendingPanchayat Chunav : गांव की सरकार चुनने किया मतदान

Panchayat Chunav : गांव की सरकार चुनने किया मतदान

3 बजे तक 64.34 प्रतिशत डले वोट, मतदान करने देखते ही बन रहा था मतदाताओं का उत्साह

बैतूल – गांव की सरकार चुनने के लिए आज त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के तहत हुए मतदान में ग्रामीणों ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया और अपने-अपने मतदाधिकार का उपयोग किया। इस दौरान मतदान केंद्रों पर जहां चाक-चौबंद व्यवस्थाएं की गई थी। बावजूद इसके जिला और पुलिस प्रशासन के आला अधिकारी लगातार पोलिंग बूथों का निरीक्षण करते हुए नजर आए। प्रात: 7 बजे से प्रारंभ हुआ मतदान दोपहर 3 बजे तक 64.34 प्रतिशत रहा। त्रि स्तरीय पंचायत चुनाव के तहत बैतूल, आमला और शाहपुर में जिला पंचायत सदस्य के कुल 41 अभ्यर्थी चुनाव मैदान में है। जनपदों के 276 जनपद सदस्य मैदान में है। इसके अलावा सरपंच के 659 प्रत्याशी और पंच के 1890 प्रत्याशी मैदान में है।

598 मतदान बनाए केंद्र

त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए बैतूल, आमला और शाहपुर में 25 जून को प्रथम चरण के हुए मतदान के लिए कुल 598 मतदान केंद्र बनाए गए थे। इन मतदान केंद्रों पर जिला पंचायत सदस्य, जनपद सदस्य, सरपंच और पंच के लिए मतदान हुआ। मतदान को संपन्न कराने के लिए जिला प्रशासन द्वारा व्यापक व्यवस्था की गई थी। इन मतदान केंद्रों पर शनिवार सुबह से ही मतदाताओं का उत्साह वोट डालने को लेकर दिखाई दिया। इन मतदान केंद्रों पर 162672 पुरूष मतदाता, 155520 महिला मतदाता गांव की सरकार चुनेंगे। चुनाव को संपन्न कराने के लिए मतदान केंद्रों पर 3323 पीठासीन एवं मतदान अधिकारी एवं 57 सेक्टर अधिकारी तैनात किए गए थे। जबकि मतदान मतदान केंद्रों पर 1500 पुलिस बल में 500 फारेस्ट और 200 सशस्त्र पुलिस बल मोबाइल की ड्यूटी लगाई थी।

मतदाताओं में वोट डालने दिखा उत्साह

गांव की सरकार चुनने के लिए शनिवार को पंचायत चुनाप के हुए प्रथम चरण के मतदान में मतदाताओं द्वारा अपने मताधिकार का बड़े ही उत्साह से प्रयोग किया। वोट डालने के लिए मतदाताओं की लंबी कतारें यह बता रही थी कि ग्रामीणों में वोट डालने को कितना अधिक उत्साह है। मतदाता शांतिपूर्ण अपना नंबर आने का इंतजार करते हुए दिखाई दिए। शुरू-शुरू में जरूर मतदान की प्रक्रिया धीमी भी लेकिन जैसे-जैसे दिन चढ़ता गया मतदान में तेजी आने लगी थी। दोपहर 3 बजे तक 64.34 मतदान हुआ ।

मतदान केंद्रों का निरीक्षण करते रहे अधिकारी

मतदान को शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए कलेक्टर अमनबीर सिंह बैंस, पुलिस अधीक्षक सुश्री सिमाला प्रसाद, जिला पंचायत सीईओ अभिलाष मिश्रा, एएसपी नीरज सोनी सहित अन्य अधिकारी लगातार कानून व्यवस्था को चुस्त-दुरूस्थ करने के लिए मतदान केंद्रों का निरीक्षण करते दिखाई दिए। अधिकारियों ने तीनों विकासखंडों के अंतर्गत बनाए गए दर्जनों मतदान केंद्रों का निरीक्षण किया। वहीं मतदाताओं से चर्चा भी की।

प्रत्याशियों के समर्थकों को मतदान केंद्र से बाहर

चुनाव निष्पक्ष और निर्भीक कराने के लिए अधिकारी मुस्तैदी के साथ मतदान केंद्रों का निरीक्षण करते नजर आए। इस दौरान भडूृस ग्राम पंचायत के चार मतदान केंद्र स्कूल परिसर में बनाए गए थे। यहां पर जब जिला पंचायत सीईओ अभिलाष मिश्रा निरीक्षण के लिए पहुंचे तो उन्होंने देखा कि प्रत्याशियों के समर्थक (हेल्प डेस्क)100 मीटर के अंदर मतदान केंद्र तक पहुंच रहे थे। यह देखकर उन्होंने तत्काल पूछताछ की और सभी को 100 मीटर के बाहर बैठने के लिए कहा।

युवा और बुजुर्गों में दिखा मतदान का उत्साह

पंचायत चुनाव में बुजुर्गों के साथ-साथ युवाओं में भी मतदान को लेकर अच्छा खासा उत्साह दिखाई दिए। युवाओं में पहली बार वोट डालने का उत्साह था तो बुजुर्गों में गांव की योग्य सरकार चुनने का सपना स्पष्ट दिखाई दे रहा था। आरती पंवार, ज्योति पंवार ने बताया कि वह पहली बार मतदान कर रही है इसलिए उन्हें बहुत खुशी महसूस हो रही है। मतदान केंद्र पर 90 साल से अधिक उम्र के बुजुर्ग भी मतदान करने के लिए पहुंचे थे। वहीं एक बुजुर्ग ने कहा कि मतदान सभी को करना चाहिए क्योंकि हमारे मत से एक अच्छा जनप्रतिनिधि चुना जाता है जो हमारे क्षेत्र का विकास करता है इसलिए मतदान सभी को करना चाहिए।

दिव्यांग मतदाता ने भी किया मतदान

आमला। पंचायत चुनाव में अपना प्रतिनिधि चुनने के लिए आम मतदाताओं के साथ साथ दिव्यांग मतदाता भी पीछे नहीं रहे। लादी पोलिंग बूथ पर दिव्यांग मतदाता तान्हाजी बैठे ट्राइसाइकिल पर बैठकर मतदान केंद्र पहुंचे और उन्होंने मतदान किया। चुनाव आयोग की तरफ मतदान केंद्रों पर पानी, छांव, शौचालय की व्यवस्था की गई थी।

RELATED ARTICLES

Most Popular