इस पत्ते के सूंघने मात्र से ही एक झटके में ठीक हो जायेगा सर्दी-जुकाम! जाने क्या है इसका नाम?

इस पत्ते के सूंघने मात्र से ही एक झटके में ठीक हो जायेगा सर्दी-जुकाम! जाने क्या है इसका नाम?, गर्मियों में भी कई बार तापमान में अचानक बदलाव हो जाता है, जिसकी वजह से जुकाम, सिरदर्द और सर्दी-खांसी जैसी समस्याएं हो सकती हैं. आमतौर पर सर्दी-जुकाम का सीजन बदलने के साथ आता है, ये प्रदूषण या तापमान के तेजी से कम-ज्यादा होने के कारण होने वाली एलर्जी होती है.

ये भी पढ़े- सड़क पर निकल आया विशालकाय एनाकोंडा! वाहन रुकने पर हुये मजबूर, देखें चौंकाने वाला वीडियो

लेकिन गर्मियों में भी तापमान में उतार-चढ़ाव की वजह से जुकाम, सिरदर्द और खांसी की समस्या हो सकती है. गौर करने वाली बात ये है कि गर्मियों में होने वाले सर्दी-जुकाम में वही दवाइयां या घरेलू नुस्खे इस्तेमाल नहीं करने चाहिए जो सर्दियों में इस्तेमाल किए जाते हैं. गर्मियों में ऐसी चीजों की जरूरत होती है जिनका तासीर ठंडी हो और साथ ही सर्दी-खांसी की समस्या से भी राहत मिले.

इनमें से एक प्राकृतिक चीज है पुदीना, जो गर्मियों में होने वाले सर्दी-खांसी की समस्या से काफी राहत दिला सकता है. पुदीने की चटनी गर्मियों में बड़े चाव से खाई जाती है, जो शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करती है. आयुर्वेद में भी पुदीने के पत्तों को कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं के लिए प्राकृतिक औषधि के रूप में देखा जाता है. आइए जानते हैं कि गर्मियों में सर्दी-खांसी की समस्या से राहत पाने के लिए पुदीने का इस्तेमाल कैसे किया जा सकता है.

गर्मियों में सर्दी-जुकाम और बहती नाक के लिए पुदीने का इस्तेमाल

  • मुट्ठी भर पुदीने की पत्तियों को सूंघें. आप पूरे दिन में कुछ समय बाद ऐसा कर सकते हैं. इससे आपको सर्दी और सिरदर्द से राहत मिल सकती है.

गर्मियों में खांसी और जुकाम के लिए पुदीने का इस्तेमाल

  • पुदीने की पत्तियों को चबाने से सीने में जकड़न कम करने में मदद मिलती है. इससे बलगम साफ होता है और सांस लेने में तकलीफ कम होती है.

ये भी पढ़े- How to find hidden camera: होटल के कमरे में छिपे कैमरे का पता कैसे लगाएं? जाने

पुदीने के अन्य फायदे (पुदीने के पत्तों के स्वास्थ्य लाभ)

  • पुदीने के रस को शरबत और अन्य पेय पदार्थों में मिलाकर पीने से शरीर को गर्मी से राहत मिलती है.
  • पुदीने में एंटीऑक्सीडेंट्स के अलावा एंटी-वायरल और एंटी-माइक्रोबियल गुण होते हैं जो शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाते हैं.
  • पुदीने की पत्तियां शरीर में पानी की कमी नहीं होने देतीं. इनका सेवन करने से न सिर्फ शरीर हाइड्रेट रहता है बल्कि हीटवेव के नुकसान से भी बचा रहता है.