Tuesday, May 24, 2022
spot_img
HomeबैतूलCrime : शराबी पति ने गड्ढे में  दफनाए पत्नी के शव को...

Crime : शराबी पति ने गड्ढे में  दफनाए पत्नी के शव को पुलिस ने निकाला

घटना को अंजाम देने के बाद पति ने खाया जहर, अस्पताल में भर्ती

आमला(पंकज अग्रवाल) – पत्नी का शराब पीने से मना करना एक पति को इतना अधिक नागंवार गुजरा कि उसने पत्नी को ठिकाने लगाने के लिए पहले पत्नी की हत्या की और उसके बाद उसके शव को घर के पास ही गड्ढे में दफना दिया।

मृतिका

मृतिका के अचानक गायब हो जाने से उसके मायके पक्ष आमला थाने में गुमशुदगी भी दर्ज कराई थी। घटना का खुलासा डायल 100 पर फोन करने के बाद हुआ।

इसलिए उतारा मौत के घाट

आमला थाना प्रभारी संतोष पंद्रे ने बताया कि थानांतर्गत आने वाले ग्राम निमझिरी निवासी सालिकराम उइके खेत में रहता है। उसकी दूसरी पत्नी गुलसो बाई 50 वर्ष उसे शराब पीने से बार-बार मना करती थी जो कि सालिकराम को कतई पसंद नहीं था। इसी बात को लेकर कल हुए विवाद में सालिकराम ने गुलसोबाई की हत्या कर दी और घर के पास ही गड्ढा खोदकर गाड़ दिया। सालिकराम की माँ ने जब पूछा कि गुलसोबाई कहां है तो सालिकराम ने जहर खा लिया। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

एसपी, डीएसपी पहुंची घटना स्थल

घटना की सूचना मिलने के बाद तत्काल एसपी सिमाला प्रसाद एवं डीएसपी पल्लवी गौर ने घटना स्थल का निरीक्षण किया और अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इसके साथ ही एसपी ने ग्रामीणों ने चर्चा भी की। एसपी को पूछताछ में सालिकराम की पहली पत्नी भागवंती बाई ने बताया की वह घटना के समय शादी में बाहर गई थी। एसपी ने बैतूल तहसीलदार प्रभात मिश्र की मौजूदगी में शव निकला।

डायल 100 से हुआ खुलासा

पत्नी को मौत के घाट उतारकर जमीन में दफना दिए जाने के मामले में सालिकराम की संदिग्ध गतिविधियों को देखते हुए ईंट भट्टे पर काम करने वाले दिलीप ने डायल 100 को सूचना दी थी। सूचना मिलने पर जब आमला पुलिस घटना स्थल पर पहुंची तो वहां दुर्गंध आ रही थी। सालिकराम से पूछताछ की गई तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। इसके बाद पुलिस ने मृतिका शव जमीन से बाहर निकलवाया। ऐसी संभावना जताई जा रही है कि शव दो दिन पुराना है। एफएसएल टीम ने शव की जांच शुरू कर दी है। शव पोस्टमार्टम उपरांत परिजनों को सौंपा जाएगा। बहरहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments