spot_img
HomeबैतूलSummer Camp : नायब तहसीलदार सृष्टि डेहरिया ने बच्चों को दिए टिप्स, समर...

Summer Camp : नायब तहसीलदार सृष्टि डेहरिया ने बच्चों को दिए टिप्स, समर कैंप का समापन  

बैतूल – समर कैंप बच्चों के सर्वांगीण विकास में सहायक होते हैं। कैंप के माध्यम से बच्चों को बहुत सारी गतिविधियों में शामिल होने का मौका मिलता है। जिससे उनका सामान्य ज्ञान तो बढ़ता ही है साथ ही खेलकूद के माध्यम से शारीरिक विकास भी होता है उक्त आशय के विचार द मानसरोवर स्कूल के समर कैंप के समापन अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि नायब तहसीलदार सृष्टि डेहरिया ने व्यक्त किए ,उन्होंने समर कैंप में शामिल हुए बच्चों को उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दी।

द मानसरोवर स्कूल में 35 दिन तक चले समर कैंप का शनिवार को समापन हुआ इस समर कैंप में बच्चों को खेलकूद प्रतियोगिता, सांस्कृतिक कार्यक्रम, आर्ट एंड क्राफ्ट और अन्य गतिविधियों में शामिल किया गया। इसके अलावा बच्चों को कई क्षेत्रों का भ्रमण कराया गया जिसमें वृद्ध आश्रम पार्क और अन्य ऐसे स्थल जहां कि उन्हें जानकारी दिलाई गई। शनिवार को अतिथियों की उपस्थिति में समर कैंप का समापन हुआ।

कार्यक्रम को द मानसरोवर स्कूल के चेयरमैन डॉ विनय सिंह चौहान ने संबोधित करते हुए कहा कि स्कूल में पढ़ाई के साथ-साथ संस्कार भी जरूरी है। हमारे स्कूल में बच्चों को संस्कार दिए जाते हैं उन्हें बताया जाता है कि मां बाप से बड़ा कोई नहीं होता है। जीवन में हमेशा विनम्र बनना चाहिए और माता-पिता का सम्मान करना चाहिए जो बच्चे अपने माता-पिता का सम्मान करते हैं वह हमेशा तरक्की करते हैं।

कार्यक्रम में शामिल हुई जिला खेल अधिकारी मनु धुर्वे ने बच्चों को संबोधित करते हुए कहा कि खेल से बच्चों का शारीरिक विकास होता है समर कैंप में दी गई सभी प्रस्तुतियों से समाज के विकास के लिए कुछ संदेश दिया गया है इस तरह समर कैंप के आयोजन बच्चों को शिक्षा के साथ-साथ कुछ नया देते हैं। इसलिए स्कूलों में समर कैंप का आयोजन होना चाहिए।

स्कूल की डायरेक्टर पुष्पलता साँवले ने अपने संबोधन में कहा कि समर कैंप में सभी गतिविधियों में बच्चे शामिल हुए जिसका उन्होंने पूरा लाभ उठाया। द मानसरोवर स्कूल ने अपनी गतिविधियों के चलते एक अलग पहचान बनाई है। यहां पर पढ़ने वाले बच्चे अपने आप में अलग होते हैं उन्हें पुस्तक के ज्ञान के अलावा संस्कार और सामान्य ज्ञान की भी जानकारी दी जाती है। इस मौके पर अतिथियों खेलकूद में बच्चों को तैयार करने वाले फिजीकल एजुकेशन टीचर श्रीराम यादव, समाजसेवी साधना मिश्रा ,स्कूल के डायरेक्टर हेमराज अन्नू जसूजा, पंकज सावले, लीला सरले, डॉ एनआर मानकर, स्कूल की प्रिंसिपल स्वाति खेमरिया के अलावा स्कूल के बच्चे उनके अभिभावक और स्कूल स्टाफ उपस्थित था।

RELATED ARTICLES

Most Popular