Wednesday, October 5, 2022
spot_img
HometrendingPolitical News : बाली, कृष्णा, रंजीत के जिम्मे तीनो निकाय

Political News : बाली, कृष्णा, रंजीत के जिम्मे तीनो निकाय

भाजपा में टिकट वितरण में नहीं आया कोई बड़ा असंतोष सामने

बैतूल – Political News – जिले के अलग-अलग क्षेत्रों में नगरीय निकायो के चुनाव की प्रक्रिया प्रारंभ है, नामांकन के बाद नाम वापसी हो चुकी है। तीनों ही नगरी निकायों में भाजपा और कांग्रेस के प्रत्याशी सभी वार्डों में चुनाव मैदान में है। स्थिति अब साफ हो गई है कि कौन किसके सामने चुनाव लड़ेगा? भाजपा तीनों जगह चुनाव जिताने के लिए पूरी ताकत झोंक रही है। पहले ही चरण में भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष ने सारनी, आठनेर का दौरा भी कर लिया है। आठनेर-चिचोली में तो भाजपा की ही परिषद है। लेकिन सारनी में कांग्रेस समर्थित निर्दलीय आशा महेंद्र भारती पहले अध्यक्ष बनी थी अब भाजपा अपनी वापसी के लिए प्रयास कर रही है।

सारनी में रंजीत सिंह झोकेंगे ताकत

भाजपा सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सारनी के 36 वार्डों में पार्षद प्रत्याशियों को चुनाव जिताने की जिम्मेदारी संगठन की ओर से भाजपा के जिलामंत्री और सारनी के कद्दावर नेता रंजीत सिंह को मिली है। सूत्र यह भी बता रहे हैं कि 36 वार्डों में भाजपा में पार्षद प्रत्याशी इनके अनुसार उतारे हैं। इसका सीधा उदाहरण वार्ड नं. 36 में देखने को मिला जहां भाजपा के जिला महामंत्री कमलेश सिंह की टिकट लगभग फायनल थी लेकिन आखरी समय में रात 10 बजे रंजीत सिंह ने अपनी पहुंच के बल पर वर्तमान पार्षद दशरथ सिंह जाट टनाटन को पुन: उम्मीदवार बनवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। इसके बावजूद जिला महामंत्री और संगठन में ऊपर तक अपनी पहुंच रखने वाले कमलेश सिंह इस प्रयास में रहे कि दशरथ सिंह की जगह उनका बी फार्म पार्टी की ओर से आ जाएगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ क्योंकि रंजीत सिंह ने कमलेश सिंह को टिकट नहीं मिलने देने अपनी पूरी ताकत झोंक दी थी। गौरतलब है कि रंजीत सिंह और कमलेश सिंह सारनी क्षेत्र की भाजपा की राजनीति में एक-दूसरे के प्रतिद्वंदी माने जाते हैं।

चिचोली में बाली बनवाएंगे भाजपा की परिषद

चिचोली में ग्राम पंचायत की जगह नगर परिषद का गठन होने के बाद से ही दोनों चुनाव में संतोष मालवीय परिवार से ही भाजपा का अध्यक्ष निर्वाचित होते रहा है। पहले पत्नी श्रीमती सुलोचना मालवीय और उसके बाद स्वयं संतोष मालवीय नगर परिषद के अध्यक्ष निर्वाचित हुए। इस चुनाव में भाजपा ने संतोष मालवीय के पुत्र आशुतोष बाली मालवीय के जिम्मे यह चुनाव रखा है। भाजपा को उम्मीद है कि उनके प्रयास से भाजपा की पुन: वापसी हो जाएगी। यही कारण है कि वार्ड क्रं. 8 से स्वयं आशुतोष बाली मालवीय, वार्ड क्रं. 11 से उनके छोटे भाई रितेश मालवीय की पत्नी वर्षा मालवीय, वार्ड क्रं. 12 से उनकी माता श्रीमती सुलोचना मालवीय एवं वार्ड क्रं. 1 से उसके परिवार की ही श्रीमती सुनीता मालवीय को भाजपा ने अपना उम्मीदवार बनाया है। जानकारी यह भी मिली है कि बाली मालवीय, संजय आंवलेकर और अनिल सिंह कुशवाह में आपसी सहमति बन गई है। राजनीतिक हलकों में यह भी माना जा रहा है कि यदि परिषद में भाजपा का बहुमत आता है तो तीसरी बार भी मालवीय परिवार की महिला प्रतिनिधि ही नगर परिषद की अध्यक्ष बनेगी

आठनेर का जिम्मा कृष्णा के कंधों पर

आठनेर नगर परिषद के संबंध में भाजपा सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार इस बार वर्तमान में नगर परिषद अध्यक्ष सूरज राठौर पर भरोसा ना करते हुए पार्टी ने जिला भाजपा कार्यालय मंत्री कृष्णा गायकी के जिम्मे छोड़ा है। यहां तक की सूरज राठौर को टिकट नहीं दी गई। जानकारी यह भी मिली है कि परिषद में भाजपा का बहुमत आता है तो अध्यक्ष कृष्णा गायकी के हिसाब से बनेगा। जानकार सूत्र बताते हैं कि कृष्णा गायकी भाजपा संगठन में दखल रखते हैं और जिलाध्यक्ष आदित्य बबला शुक्ला के खासमखास माने जाते हैं और यही कारण है कि आठनेर नगर परिषद के 15 वार्डों में भाजपा की टिकट वितरण में उनका अहम रोल बताया जा रहा है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments