spot_img
HomeबैतूलMahila Sarpanch : जावरा पंचायत में चुनी गई निर्विरोध आदिवासी महिला सरपंच

Mahila Sarpanch : जावरा पंचायत में चुनी गई निर्विरोध आदिवासी महिला सरपंच

स्व सहायता समूह में सचिव है रेखा उइके

आठनेर (चाणक्य राखडे )- पंचायत चुनाव मैं नामांकन के बाद अब स्थिति स्पष्ट होती जा रही है । प्रत्याशी चुनाव की तैयारियों में जुट गए हैं । इसके बावजूद कुछ जगह ग्रामीणों की अच्छी पहल सामने आ रही है । ऐसा ही कुछ आठनेर जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत जावरा में सामने आया है जहां ग्रामीणों ने सरपंच को निर्विरोध चुन लिया है ।

आठनेर जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत जावरा का सरपंच पद आदिवासी महिला के लिए आरक्षित था । ग्रामीणों ने बैठकर निर्णय लिया कि वे ग्राम पंचायत में चुनाव नहीं कराना चाहते हैं । इसलिए उन्होंने आदिवासी समाज की रेखा पति पंजाब उइके को निर्विरोध सरपंच चुनने का मन बना लिया और यहां से सिर्फ एक ही नामांकन पत्र दाखिल किया गया । नामांकन की जांच होने के बाद उनका नामांकन वैध पाया गया अब यह स्पष्ट हो गया कि वे निर्विरोध सरपंच बनेगी ।

जावरा की रेखा पति पंजाब उइके महिलाओं के लिए वैसे भी प्रेरणा है उन्होंने स्व सहायता समूह के माध्यम से महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए कार्य किया है। रेखा उइके अन्नपूर्णा स्व सहायता समूह की सचिव हैं और अब उन्हें महत्वपूर्ण जिम्मेदारी मिलने वाली है । हालांकि ग्रामीणों का कहना है कि रेखा के परिवार से इस ग्राम पंचायत में पहले भी सरपंच रहे हैं और इस परिवार को अनुभव है इसलिए उन्होंने रेखा उइके को निर्विरोध चुनने का मन बनाया है। ग्रामीणों का कहना है कि चुनाव से वैमनस्यता फैलती है, इसलिए आम सहमति से जनप्रतिनिधि चुने जाने चाहिए ।

RELATED ARTICLES

Most Popular