Friday, August 12, 2022
spot_img
HomeबैतूलLaddakh Accident : शहीद को छोटे भाई ने दी मुखाग्नि, जय जवान...

Laddakh Accident : शहीद को छोटे भाई ने दी मुखाग्नि, जय जवान के नारों से गूंजा बिसनूर

मुलताई – धरती माता के वीर सपूत की पार्थिव देह जैसे ही ग्राम बिसनूर में सेना के जवान सेना के ट्रक से लेकर पहुंचे। समूचा गांव भारत माता की जय… जय जवान, शहीद गुरूदयाल अमर रहे के गगनभेदी उद्घोषों से गूंज उठा।

नम आंखों से पार्थिव देह के सभी ग्रामवासियों, परिजनों ने दर्शन कर पुष्प अर्पित किए। पार्थिव देह के दर्शन करने के लिए ग्रामीणों का जनसैलाब उमड़ पड़ा था। महिला-पुरूष सहित बच्चे अपने-अपने घरों की छत पर और गैलरी में खड़े हुए दिखाई दे रहे थे।

पूरे गांव के ग्रामीणों गमगीन नम आंखों से अपने वीर सपूत को अश्रुपूरित अंतिम विदाई दी। दिवंगत जवान का अंतिम संस्कार किया गया और उनके छोटे भाई द्वारा मुखाग्नि दी गई।

राजकीय सम्मान के किया जाएगा अंतिम संस्कार

मुलताई में साहू समाज, पूर्व सैनिक संघ सहित आम लोगो ने उनको अंतिम विदाई दी। ताप्ती घाट पर राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया। नितेश साहू, बबलू साहू सहित अन्य लोगों ने बताया कि बिसनूर के गुरुदयाल 20 सालो से देश की सेवा कर रहे थे। उनकी शहादत पर पूरे देश को गर्व है। उनकी शहादत को हर कोई याद रखेगा।

मुलताई में सेना के वाहन से शव पहुँचा गांव

नागपुर से शहीद का शव मुलताई तक एंबुलेंस से लाया गया। वहीं मुलताई में उनके शव को सेना के वाहन में रखकर गांव तक पहुंचाया जाएगा। मासोद रोड पर बड़ी संख्या में लोग उन को अंतिम विदाई देने के थे एवं भारत माता की जय के नारों से पूरा क्षेत्र गूंज गया। बताया गया कि परिजनों द्वारा दिवंगत जवान की पार्थिवदेह का अंतिम संस्कार किया गया।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments