Friday, September 30, 2022
spot_img
Homeदेशकिसानो की ख़राब हुई फसल का देगी Govt मुआवजा इस तारीख देने...

किसानो की ख़राब हुई फसल का देगी Govt मुआवजा इस तारीख देने के तैयारी पड़े खबर।

PM Fasal Bima Yojana: सरकार द्वारा किसानों के लाभ के लिए कई तरह की योजनाएं चलाई गई हैं, जिनका लाभ किसानों को दिया जा रहा है. इन्हीं में से एक है पीएम फसल बीमा योजना। इस योजना के तहत प्राकृतिक आपदा से फसल को हुए नुकसान की भरपाई किसानों को की जाती है। इस योजना के तहत किसानों की फसलों का बीमा किया जाता है। प्राकृतिक आपदाओं के कारण बीमित फसल को नुकसान होने पर किसानों को मुआवजा राशि का भुगतान किया जाता है। यह योजना भारत के अधिकांश राज्यों में लागू है। हाल ही में राजस्थान में फसल बीमा को लेकर समीक्षा बैठक हुई थी, जिसमें किसानों को बारिश से फसलों को हुए नुकसान का जल्द से जल्द मुआवजा देने का निर्देश दिया गया है.

राजस्थान सरकार ने की पीएम फसल बीमा योजना की समीक्षा बैठक, दिए निर्देश

राजस्थान सरकार ने की पीएम फसल बीमा योजना की समीक्षा बैठक, दिए निर्देश

राजस्थान की मुख्य सचिव उषा शर्मा की अध्यक्षता में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की समीक्षा बैठक हुई। इसमें मुख्य सचिव ने राज्य के किसानों को लंबित बीमा दावों के शीघ्र निपटान के लिए बीमा कंपनियों से संपर्क कर किसानों को मुआवजा दिलाने के निर्देश दिए. बैठक में मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि खरीफ-2022 में कटाई का ऑनलाइन रिकॉर्ड शत-प्रतिशत हो. इसके लिए कृषि अधिकारी अपने जिला कलेक्टरों से समन्वय स्थापित करें। समीक्षा बैठक में कृषि विभाग के आयुक्त कानाराम ने बताया कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत पिछले तीन वर्षों में अब तक 16 हजार करोड़ रुपये के बीमा दावों का वितरण किया गया है.

समीक्षा बैठक में दिए गए ये निर्देश

समीक्षा बैठक में दिए गए ये निर्देश
बैठक में कृषि विभाग के आयुक्त कानाराम ने कहा कि इस वर्ष खरीफ-2022 में लगभग 2.20 करोड़ फसल बीमा पॉलिसियां ​​की गई हैं. इसके तहत 66 लाख हेक्टेयर क्षेत्र का बीमा किया गया है। इस वर्ष मानसून के दौरान अधिक बारिश के कारण जलजमाव के कारण फसल को नुकसान पहुंचाने वाले किसानों के लिए भी सर्वे का काम चल रहा है. सर्वे के बाद जल्द ही किसानों को फसल नुकसान का उचित मुआवजा दिया जाएगा.

किसानों को मिलेगी फसल के नुकसान का मुआवजा

किसानों को मिलेगी फसल के नुकसान का मुआवजा
पीएम फसल बीमा योजना के नियमों के मुताबिक अगर किसान की फसल में 33 फीसदी से ज्यादा नुकसान होता है तो उसे फसल बीमा के तहत मुआवजा दिया जाता है. इसके लिए किसान को 72 घंटे के भीतर बीमा कंपनी को सूचित करना होगा जिससे उसने बीमा लिया है। इसके बाद कंपनी द्वारा सर्वे के लिए नियुक्त अधिकारी खेत में फसल का सर्वे कर फसल खराब होने की रिपोर्ट बनाते हैं. इस रिपोर्ट के आधार पर किसानों को फसल बीमा के तहत मुआवजे की राशि दी जाती है.

फसल में 33 प्रतिशत से अधिक नुकसान होने पर किसानों को मिलेगा मुआवजा

फसल में 33 प्रतिशत से अधिक नुकसान होने पर किसानों को मिलेगा मुआवजा
पीएम फसल बीमा योजना के प्रावधानों के अनुसार ओलावृष्टि या बारिश से फसल खराब होने की सूचना 72 घंटे के भीतर किसान को बीमा कंपनी को देनी होती है. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत बीमित किसानों को मुआवजा तभी मिलता है जब वे संबंधित कंपनी को समय पर नुकसान की सूचना देते हैं। किसान फसल नुकसान की रिपोर्ट बीमा कंपनी के टोल फ्री नंबर या फसल बीमा एप के जरिए कर सकते हैं। इसके अलावा प्रभावित बीमित किसान भी हानि प्रपत्र भरकर जिलों में कार्यरत बीमा कंपनी, कृषि कार्यालय या संबंधित बैंक को सूचित कर सकते हैं।

फसल खराब होने पर 72 घंटे के अंदर देनी होगी सूचना

फसल खराब होने पर 72 घंटे के अंदर देनी होगी सूचना
जो किसान पीएम फसल बीमा का लाभ लेना चाहते हैं, उन्हें पहले अपनी फसल का बीमा कराना होगा। यह बीमा साल में दो बार किया जाता है। एक खरीफ सीजन के लिए और दूसरा रबी सीजन की फसलों के लिए किया जाता है। बीमा लेने वाले किसान को खरीफ फसलों के लिए 2 प्रतिशत और रबी फसलों के लिए 1.5 प्रतिशत प्रीमियम देना होगा। शेष प्रीमियम का भुगतान राज्य और केंद्र सरकार द्वारा किया जाता है। इस तरह आप इस योजना के माध्यम से बहुत कम प्रीमियम पर अपनी फसल का बीमा कर सकते हैं।

किसान इस तरह से फसल बीमा का लाभ उठा सकते हैं पीएम फसल बीमा योजना

किसान इस तरह से फसल बीमा का लाभ उठा सकते हैं पीएम फसल बीमा योजना
इसके लिए किसान ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं या फसल बीमा कंपनी के एजेंट के माध्यम से फॉर्म भर सकते हैं। आवेदन के लिए किसानों को आधार कार्ड, राशन कार्ड, कृषि भूमि के दस्तावेज, बैंक खाते की पासबुक की प्रति, पते का प्रमाण, बीमा कराने वाले किसान की फोटो आदि दस्तावेजों की आवश्यकता होगी।

किसानो की ख़राब हुई फसल का देगी Govt मुआवजा इस तारीख देने के तैयारी पड़े खबर।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments