spot_img
HometrendingIAS Iqbal Singh Bains - रिटायरमेंट के दिन मिली सेवावृद्धि, मुख्य सचिव...

IAS Iqbal Singh Bains – रिटायरमेंट के दिन मिली सेवावृद्धि, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस का बढ़ा कार्यकाल

IAS Iqbal Singh Bains – भोपाल – मध्यप्रदेश के संवेदनशील एवं कार्य के प्रति कर्त्तव्यनिष्ठ मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस आज सेवानिवृत्त हो रहे थे। लेकिन मुख्यमंत्री(Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान उनकी कार्यप्रणाली से संतुष्ट हैं और उनके विश्वनीय भी माने जाते हैं। इसलिए आज राज्य शासन के आग्रह पर केंद्र सरकार ने मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस (1985 कैडर के आईएएस) को 1 दिसम्बर 2022 से 31 मई 2023 तक की सेवावृद्धि का आदेश जारी किया है।

केंद्रीय कार्मिक एवं पर्सनल मंत्रालय नई दिल्ली के अंडर सेकेटरी कुलदीप चौधरी के हस्ताक्षर से आज जारी इस आदेश से मध्यप्रदेश(Madhya Pradesh) के प्रमुख सचिव सामान्य प्रशासन विभाग को सूचित किया गया है। मिली जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इकबाल सिंह बैंस(Iqbal Singh Bains) के सेवावृद्धि के लिए केंद्र सरकार को प्रस्ताव तो भेजा ही इसके अलावा व्यक्तिगत तौर पर दिल्ली जाकर संबंधित मंत्रियों और अधिकारियों से मुलाकात भी की तब जाकर अंतिम समय में श्री बैंस के एक्सटेंशन(Extension) को हरी झंडी मिली।

मुख्य सचिव(Chief Secratory) की दौड़ में सबसे आगे खुद इकबाल सिंह बैंस, अनुराग जैन और मोहम्मत सुलेमान के नाम चर्चा में थे, मुहर श्री बैंस के नाम पर लगी। यहां यह भी चर्चा है कि श्री बैंस के एक्सटेंशन न मिलने की स्थिति में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान 1989 बैच के सीनियर आईएएस अनुराग जैन को मुख्य सचिव बनाना चाहते थे, लेकिन श्री बैंस प्रधानमंत्री(Prime Minister) के ग्रीन प्रोजेक्ट गतिशक्ति योजना को लीड कर रहे हैं जो 2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर अहम माना जा रहा है, इसीलिए मुख्यमंत्री ने श्री जैन की वापसी की संभावनाएं खत्म होने के बाद मोहम्मद सुलेमान पर विचार करने की जगह मौजूदा मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस को एक्सटेंशन दिलाने का निर्णय लिया। बैतूल कलेक्टर अमनबीर सिंह बैंस(IAS Amanbeer Singh Bains) के पिता इकबाल सिंह बैंस की प्रदेश के अच्छे अधिकारियों में गणना होती है।

Photo Credit – Internet

उपलब्धि भरा रहा कार्यकाल(IAS Iqbal Singh Bains)

मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस का कार्यकाल उपलब्धि भरा रहा। भारतीय प्रशासनिक सेवा में चयन के बाद पहली पोस्टिंग 21 जनवरी 1993 को सीहोर में हुई थी। इसके बाद उन्हें गुना, खंडवा, भोपाल का कलेक्टर बनाया गया। भोपाल में उन्होंने अपनी प्रशासनिक दक्षता का परिचय दिया और विकास के साथ कानून व्यवस्था को दुरूस्त किया। उन्होंने ही मध्य प्रदेश में लोकसेवा गारंटी कानून लागू करवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। विभिन्न जनहितैषी योजनाओं को लागू करवाने में श्री बैंस का बढ़ा योगदान रहा है। प्रशासनिक गलियारों में उनकी काफी सराहना की जाती है।

RELATED ARTICLES

Most Popular