spot_img
HometrendingCongress : टिकटों में कांग्रेस विधायकों की चली, कांग्रेस अध्यक्ष की पत्नी...

Congress : टिकटों में कांग्रेस विधायकों की चली, कांग्रेस अध्यक्ष की पत्नी ने लिया नाम वापस

बैतूल कल देर शाम कांग्रेस ने बैतूल नगरपालिका परिषद के सभी 33 वार्डों के उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी थी जिसमें 4 ऐसे वार्डों से महिला नेत्रियों को टिकिट दी गई है जो अनारक्षित घोषित किए गए थे इस तरह से कांग्रेस में 33 में से 20 महिलाओं को मैदान में उतारा है। वहीं 6 पूर्व पार्षदों को भी चुनाव लड़ने का अवसर दिया है। कांग्रेस ने इस लिस्ट में मुस्लिम समुदाय का भी विशेष ध्यान रखा है। कोठी बाजार क्षेत्र के चार वार्डों में मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकिट दी है। आज नाम वापसी का अंतिम दिन था और भाजपा-कांग्रेस दोनों ही के टिकिट के कई दावेदारों ने इस आशा से नामांकन भरा था कि उन्हें टिकिट मिल सकती है लेकिन अधिकृत सूची में नाम न आने के कारण कई दावेदारों ने नाम वापस ले लिए। कांग्रेस के कई दावेदारों के नाम वापसी के समय जिला कांग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष हेमन्त वागद्रे, जिला कांग्रेस प्रवक्ता हेमन्त पगारिया, प्रतीक देशमुख, रितेश शुक्ला आदि उपस्थित थे।

भाजपा में 33 में 26, कांग्रेस में 33 में 27 नए उम्मीदवार

जहां भाजपा ने 33 में से लगभग 26 नए उम्मीदवारों को चुनावी रण में उतारकर एन्टी एम्केंबेंसी से बचने का प्रयास किया है तो कांग्रेस ने भी 33 में से 27 नए उम्मीदवारों को अवसर दिया है। कांग्रेस ने प्रताप वार्ड क्रमांक 14 पिछड़ा वर्ग महिला से श्रीमती सारिका उमेश (डैनी)भावसार एवं वार्ड क्र. 22 टैगोर वार्ड पिछड़ा वर्ग से तीन बार की पार्षद श्रीमती निर्मला नंदकिशोर सोनी को टिकिट दी है और माना जा रहा है कि यदि कांग्रेस 33 में से 17 पार्षद निर्वाचित कर लेती है तो इन दोनों में से एक महिला अध्यक्ष के लिए गम्भीर दावेदार हो सकती है।

निलय डागा समर्थकों को मिला अवसर

कांग्रेस के 33 उम्मीदवारों की सूची को देखा जाए तो ऐसा माना जा रहा है कि लगभग 29 उम्मीदवार बैतूल के स्थानीय कांग्रेस विधायक निलय डागा के द्वारा प्रदेश कांग्रेस को दी गई सूची के है। गौरतलब है कि जिला कांग्रेस अध्यक्ष सुनील शर्मा भी जिले की कांग्रेस के गुटीय समीकरण में पूरी तरह से विधायक निलय डागा के साथ है। वार्ड क्रमांक 10 कृष्णपुरा अनारक्षित स े पूर्व में पार्षद रहे मुकेश राजकुमार वर्मा (लल्ली वर्मा) को कांग्रेस ने टिकिट दी है। मिली जानकारी के अनुसार लल्ली वर्मा को टिकिट सीधे छिंदवाड़ा के कांग्रेस सम्पर्कों के माध्यम से प्राप्त हुई है। वहीं वार्ड क्रमांक 9 तिलक वार्ड पिछड़ा वर्ग से अब्दुल नफीस चुनाव लड़ रहे हैं। बताया जा रहा है कि अब्दुल नफीस प्रदेश कांग्रेस सचिव समीर खान की पसंद है। इसी तरह से वार्ड क्रमांक 32 शंकर वार्ड अनारक्षित महिला से श्रीमती ममता प्रकाश चड़ोकार को टिकिट मिली है। श्रीमती चड़ोकार कांग्रेस के दोनों गुटों की कामन उम्मीदवार बताई जा रही है।

इसके अलावा वार्ड क्रमांक 17 भगत सिंह वार्ड अनारक्षित से उमाशंकर दीवान एवं वार्ड क्र. 19 से उनके भाई ओमप्रकाश उर्फ राजकुमार दीवान को टिकिट दी गई है ओर इन्हें भी कांग्रेस के दोनों गुटों के सामांजस्य से मिलना बता रहे हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष की पत्नी ने लिया नाम वापस

सदर क्षेत्र के वार्ड क्रमांक 19 शास्त्री वार्ड अनारक्षित से नगर कांग्रेस अध्यक्ष मोनू बडोनिया की पत्नी श्रीमती कीर्ति बड़ोनिया ने नामांकन फार्म भरा था लेकिन कांग्रेस ने इस वार्ड से ओमप्रकाश दीवान उर्फ राजकुमार दीवान को चुनाव मैदान में उतारा है इसलिए आज श्रीमती कीर्ति बड़ोनिया ने कांग्रेस उम्मीदवार के पक्ष में नाम वापस ले लिया।

इसी तरह से कांग्रेस के वार्ड क्रमांक 12 के पार्षद प्रत्याशी एवं जिला कांग्रेस कमेटी के कार्यवाहक अध्यक्ष हेमंत वागद्रे के कट्टर समर्थक  राजेश गावण्डे, महेश भगोरिया, शैलेंद्र पंडाग्रे वार्ड क्रमांक 9 के प्रत्याशी रजनीश मंगू सोनी 15 के प्रत्याशी लक्ष्मी कांत यादव, 24 से निधि सोनी, वार्ड क्रं. 32 सुशीला तिवारी एवं वार्ड क्रं. 8 आबीद खान, वार्ड क्रं. 10 से सुरेश ने नाम वापस लिया। इसके साथ ही समाचार लिखे जाने तक नाम वापसी की प्रक्रिया जारी थी।

कदीर खान परिवार को तीसरी बार टिकिट

कांग्रेस ने अल्पसंख्यक कोटे से चार उम्मीदवारों को चुनाव लड़वाया है उसमें आजाद वार्ड अनारक्षित से पूर्व पार्षद कदीर खान फिर अपनी किस्मत अजमा रहे हैं। इसके पूर्व इसी वार्ड से उनकी पत्नी श्रीमती सायरा कदीर खान भी पार्षद निर्वाचित हुई थी। इस तरह से इस परिवार को तीसरी बार कांग्रेस ने इस वार्ड से चुनाव में उतारा है। लोकसभा, विधानसभा और अन्य कई चुनाव में मुस्लिम बाहुल्य आजाद वार्ड से कांग्रेस को अच्छी लीड मिलते रही है। इसलिए माना जा रहा है कि इस बार भी कांग्रेस उम्मीदवार का पलड़ा भारी रहेगा। वैसे तो भाजपा ने यहां से मुस्लिम समुदाय के ही अकरम टेलर को टिकिट दी है।

कांग्रेस विधायकों पर हाईकमान ने किया भरोसा

पूरे जिले के विभिन्न नगरीय निकायों के उम्मीदवारों की सूची देखी जाए तो यह स्पष्ट हो रहा है कि उन-उन क्षेत्रों के कांग्रेस विधायकों को उम्मीदवारों के चयन में प्राथमिकता दी गई है जिनके क्षेत्र में चुनाव हो रहे हैं। बैतूल विधायक निलय डागा को बैतूल और बैतूलबाजार, सुखदेव पांसे को मुलताई, ब्रम्हा भलावी को घोड़ाडोंगरी और शाहपुर और धरमू सिंह को भैंसदेही नगर परिषद के चुनाव में उम्मीदवारों के चयन में प्रदेश कांग्रेस द्वारा फ्री हेंड दिया गया था।

RELATED ARTICLES

Most Popular