Tuesday, August 9, 2022
spot_img
HomeबैतूलBAN : प्रतिबंध के बाद भी धड़ल्ले से हो रहे बोर खनन

BAN : प्रतिबंध के बाद भी धड़ल्ले से हो रहे बोर खनन

ग्रामीण अंचलों में कलेक्टर के आदेश की उड़ रही धज्जियाँ

शाहपुर (शैलेन्द्र गुप्ता) – जिले में जलसंकट उत्पन्न ना हो इसको लेकर ग्रीष्मकाल में कलेक्टर ने बोर खनन पर प्रतिबंध लगा दिया है लेकिन ग्रामीण अंचलों में प्रतिबंध के बावजूद भी धड़ल्ले से बोर खनन किए जा रहे हैं।

रात में हो रहे अवैध बोर खनन

प्राप्त जानकारी के अनुसार जिला कलेक्टर द्वारा सम्पूर्ण जिले में बोरिंग पर प्रतिबंध लगाया गया है। ग्रामीण क्षेत्रों में कलेक्टर के आदेश का पालन नहीं किया जा रहा है। खेतों में रात व दिन में बोरिंग मशीनें चलने की खबरें आ रही हैं। बीते शनिवार की रात ढोढरामहू, डाबरी क्षेत्र से रात में खनन कराए जाने की तस्वीरें सामने आई थी ग्रामीण क्षेत्रों में भी रात के अंधेरे में बोरिंग मशीनें चलाई जा रही हैं। सूत्रों से प्राप्त जानकारी अनुसार शनिवार की रात मशीन क्रमांक केए01 एमयू 1595 से बीजादेही थाना अंतर्गत ग्राम डाबरी में अवैध बोर खनन किया जा रहा था। इन मशीनों पर कार्रवाई की जिम्मेदारी राजस्व विभाग व पुलिस को सौंपी गई है।

गर्मियों में ही सुलभ होता है बोरिंग कार्य

इधर किसानों के नजरिए से ध्यान दें तो गर्मियों में किसानों को खेतों में बोर कराना सुलभ होता है, क्योंकि बारिश व ठंड में फसलें लगी रहती हैं, जिससे बोरिंग मशीनों को खेतों तक पहुंचने के लिए रास्ता नहीं मिलता है। इसके अलावा किसान रबी सीजन की फसल बेचने के बाद रुपए हाथ में आने के बाद पहले अपने जरूरी काम कराते हैं, अब भले ही कलेक्टर ने प्रतिबंध लगा दिया है, लेकिन वह आगामी परेशानियों को देखते हुए प्रतिबंध के दौर में अपने खेतों पर बोरिंग कराने के प्रयासरत दिखाई दे रहे हैं।

इनका कहना है…

गांव कोटवार को भेज कर दिखाता हूं अगर अवैध खनन हो रहा है तो कार्रवाई करूंगा

एसडीएम शाहपुर अनिल सोनी

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments