Friday, August 19, 2022
spot_img
HomeबैतूलUPDATE : तीन माह की मायरा नागपुर रेफर, मातम में बदली खुशियाँ

UPDATE : तीन माह की मायरा नागपुर रेफर, मातम में बदली खुशियाँ

बैतूल – अमरावती में साहू परिवार के एक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए इंदौर से आए रिश्तदारों वापस स्वीफ्ट कार से इंदौर जा रहा थे। जैसे ही कार सोमवार तडक़े चिरापाटला के पास बेला जोड़ पर पहुंची सामने से आ रहे ट्रक से कार की सीधी भिड़ंत हो गई। इस भिड़ंत में जहां दो लोगों की बुरी तरह से कार में फंसने से मौत हो गई वहीं पांच लोग घायल हो गए हैं। इनमें तीन माह की मासूम एक बच्ची की हालत चिंताजनक बनी हुई है। सभी घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चिचोली में भर्ती कराया गया है जहां से तीन माह की बच्ची को जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया था। जहां से बच्ची को नागपुर रेफर किया गया है। यह दुर्घटना जिला मुख्यालय से करीब 55 किलोमीटर दूर चिचोली थाने के अंतर्गत आने वाले ग्राम चिरापाटला के पास सोमवार सुबह घटित हुई।

रेस्क्यू कर निकाले कार से शव

चिचोली टीआई अजय सोनी ने बताया कि अमरावती से स्वीफ्ट कार क्रमांक एमपी 09 टीए 7836 में सवार होकर इंदौर जा रहे थे। जैसे ही कार नेशनल हाईवे 59 बैतूल-इंदौर पर चिरापाटला के पास बेला जोड़ पर सोमवार तडक़े पहुंचे हरदा की ओर से आ रहे कंटेनर क्रमांक टीएस 07 यूजी 0300 से कार की सीधी भिडं़त हो गई। इस भीषण दुर्घटना में जहां कार के परखच्चे उड़ गए। वहीं कार चला रहे विकास साहू पिता पप्पू साहू उम्र 28 एवं विधि पिता मनीष साहू उम्र 11 निवासी अमरावती की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। दोनों के शव रेस्क्यू कर कार से बाहर निकाले गए।

भीषण दुर्घटना में 5 हुए घायल

ट्रक-कार भिड़ंत में जहां दो लोगों की मौत हो गई। वहीं पांच लोग घायल हो गए हैं। घायलों में घटना में घायल होने वालों में पूजा पति मनीष साहू 30 अमरावती, प्रीतिका पिता मनीष साहू 5 अमरावती, मायरा पिता मनीष साहू उम्र 3 माह इमरावती, सोमती पति विकास साहू उम्र 24 साल इंदौर, विशांत पिता विकास साहू 3 साल निवासी इंदौर शामिल हैं।

मायरा की हालत गंभीर, नागपुर रेफर

इस भीषण दुर्घटना में मनीष साहू की एक बेटी की जहां मौत हो गई है। वहीं उनकी तीन माह की बच्ची मायरा की हालत चिंताजनक बनी हुई है। मायरा को पहले सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया था जहां से हालत गंभीर होने पर जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया है। जिला अस्पताल में भी बच्ची की हालत चिंताजनक होने पर बच्ची को उसकी माँ के साथ नागपुर रेफर कर दिया गया है।

पल भर में मातम में बदली खुशियां

घायलों ने बताया कि अमरावती में विवाह कार्यक्रम में शामिल होने के लिए इंदौर से आए परिजनों को वह वापस इंदौर कार से छोडऩे के लिए जा रहे थे। सभी खुशी-खुशी आपस में बातचीत कर रहे थे लेकिन उन्हें क्या पता था कि चंद पलों में ही परिवार की खुशियां मातम में तब्दील हो जाएगी। कार में 7 लोग सवार थे जिसमें से 2 लोगों की जहां मौत हो गई वहीं 5 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments