Surya Grahan | अप्रैल में पड़ने वाले सूर्य ग्रहण का चिड़ियों, पौधों पर पड़ेगा असर

ग्रहण के दौरान दिखते है कुछ बदलाव

चिड़ियों पर प्रभाव| Surya Grahan

सूर्य ग्रहण के दौरान चिड़ियाँ भ्रमित हो जाती हैं और घोंसले में वापस चली जाती हैं।
वे दिशा-निर्देश खो सकती हैं और अजीब तरह से उड़ सकती हैं।
कुछ चिड़ियाँ ग्रहण के दौरान शांत हो जाती हैं और कुछ उत्तेजित हो जाती हैं।

पौधों पर प्रभाव:

सूर्य ग्रहण के दौरान पौधे अपनी पत्तियां बंद कर देते हैं और रात के समय जैसा व्यवहार करते हैं।
प्रकाश संश्लेषण की प्रक्रिया धीमी हो जाती है।
कुछ पौधों के फूल खिलने में देरी हो सकती है।

वैज्ञानिकों का अध्ययन | Surya Grahan

2017 में अमेरिका में हुए पूर्ण ग्रहण के दौरान शोधकर्ताओं ने पाया कि कीड़े, पक्षी और पौधे रात के पैटर्न की तरह व्यवाहर कर रहे थे।
जुगनू चमकने लगे थे और चिड़ियाघर के जानवरों में चिंता या भ्रम के लक्षण दिख रहे थे।
वैज्ञानिकों का मानना ​​है कि ग्रहण के दौरान पृथ्वी पर प्रकाश की मात्रा में कमी के कारण यह प्रभाव होता है।

8 अप्रैल को भारत में सूर्य ग्रहण:

8 अप्रैल 2024 को भारत में सूर्य ग्रहण दिखाई देगा।
यह ग्रहण भारत के कुछ हिस्सों में पूर्ण और कुछ हिस्सों में आंशिक रूप से दिखाई देगा।
ग्रहण का समय सुबह 9:30 बजे से दोपहर 3:30 बजे तक होगा।

सावधानियां:

ग्रहण को नंगी आंखों से देखना हानिकारक हो सकता है।
ग्रहण को देखने के लिए विशेष चश्मे या फिल्टर का उपयोग करना चाहिए।
गर्भवती महिलाओं और बच्चों को ग्रहण देखने से बचना चाहिए।

यह भी ध्यान रखें:

ग्रहण के दौरान किसी भी धार्मिक या सामाजिक रीति-रिवाजों का पालन करना आवश्यक नहीं है।
ग्रहण एक प्राकृतिक घटना है और इसका कोई अशुभ प्रभाव नहीं होता है.

2 thoughts on “Surya Grahan | अप्रैल में पड़ने वाले सूर्य ग्रहण का चिड़ियों, पौधों पर पड़ेगा असर”

Comments are closed.