Friday, September 30, 2022
spot_img
HometrendingSanp ka Video : अपने अंडो को बचाने खतरनाक सांप से भीड़ गई...

Sanp ka Video : अपने अंडो को बचाने खतरनाक सांप से भीड़ गई मैना 

बैतूल -Sanp ka Video – एक सांप मैना के अंडे खाने के लिए नीलगिरी के पेड़ पर चढ़ गया। मैना ने देखा कि सांप उसके अंडे खाने के लिए उसके घोसले की ओर बढ़ रहा है तो मैना लगातार शोर मचाते हुए सांप(Sanp) से भिड़ गई। यह नजारा जब लोगों ने देखा तो तत्काल सर्पमित्र को बुलाया। इसके बाद सर्पमित्र ने करीब 8 फीट लंबे सांप का रेस्क्यू किया।

सर्पमित्र ने किया रेस्क्यू(Sanp ka Video)

प्राप्त जानकारी के अनुसार मुलताई क्षेत्र के कामथ में नीलगिरी के पेड़ पर मैना के अंडे खाने के लिए चढ़ा 8 फीट लंबे सांप(Sanp) से मैना भीड़ गई। लगभग आधे घंटे तक चली इस लड़ाई के बाद लोगों ने इसकी सूचना सर्पमित्र को दी। सर्पमित्र श्रीकांत विश्वकर्मा ने मौके पर पहुंचकर नीलगिरी के पेड़ पर से सांप(Sanp) का रेस्क्यू किया और उसे जंगल में छोड़ दिया। बताया जा रहा है कि यह सांप धामन प्रजाति का था और यह मैना के अंडों को खाने का शौकीन होता है।

लोगों ने दी सूचना(Sanp ka Video)

इतने बड़े सांप से मैना की लड़ाई देखकर हर कोई हतप्रभ रह गया। बताया जा रहा है कि दीपक पटेल की आरा मशीन के समीप नीलगिरी के पेड़ पर सांप(Sanp) और मैना की लड़ाई हुई। इधर ग्राम पारडसिंगा में निलेश गवाड़े के पोल्ट्री फार्म के बाजू में बने जानवर बांधने के कोठे में 8 फीट का धामन सांप(Sanp) दिखाई देने पर हडकंप मच गया। तुरंत ही सर्प मित्र श्रीकांत विश्वकर्मा को जानकारी दी गई। उन्होंने मौके पर पहुंच बिना देरी किए सांप का रेस्क्यू किया और पर्यावरण में छोड़ दिया गया।

सर्पमित्र ने की अपील(Sanp ka Video)

सर्पमित्र श्रीकांत विश्वकर्मा ने बताया कि सांप किसानों के मित्र होते हैं, वह चूहो को खाते हैं, चूहे फसलों को बर्बाद करते हैं। ऐसे में सांप चूहों को खाकर किसानों की मदद करते हैं। खेतों में सांप(Sanp) निकलने पर किसानों द्वारा उन्हें मारा नहीं जाना चाहिए, क्योंकि सांप हमारे पारिस्थितिक तंत्र का एक महत्वपूर्ण अंग है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments