Homehealthपेट की समस्या का समाधान करेगा सिर्फ एकमात्र पौधा लगाये अपने घर...

पेट की समस्या का समाधान करेगा सिर्फ एकमात्र पौधा लगाये अपने घर के गमले में होगा फायदा ही फायदा जब भी हो पेट दर्द खाये इसकी पत्तिया

पेट की समस्या का समाधान: किचन गार्डन में ऐसे कई पौधे होते हैं जिनके फल-फूल या पत्ते सेहत के लिए बेहद ही फायदेमंद होते हैं। जैसे- तुलसी का पौधा, एलोवेरा का पौधा, लेमन ग्रास, पुदीना का पौधा आदि कई पौधे शामिल हैं। कई बार आयुर्वेदिक एक्सपर्ट भी इन पौधे के फल-फूल या पत्तों को सेवन करने की सलाह देते हैं।एक ऐसा ही पौधा है जिसके बारे में कहा जाता है कि इसके सेवन से पेट की कई बीमारी आसानी से दूर हो सकती है। जी हां, हम बात कर रहे हैं ‘अजवाइन पौधा’ के बारे में।इस आर्टिकल में हम आपको कुछ गार्डनिंग टिप्स एंड हैक्स ब

पेट की समस्या का समाधान:

पेट की समस्या का समाधान करेगा सिर्फ एकमात्र पौधा लगाये Plant only one plant will solve the problem of stomach

पेट की समस्या का समाधान:

पेट की समस्या का समाधान करेगा सिर्फ एकमात्र पौधा लगाये अपने घर के गमले में होगा फायदा ही फायदा जब भी हो पेट दर्द खाये इसकी पत्तिया

पेट की समस्या का समाधान:

अजवाइन का पौधा लगाने के लिए सामग्री Ingredients for Planting Celery Plant
बीज
खाद
गमला (मिट्टी का)
पानी
सही बीज का करें चुनाव

किसी भी फल-सब्जी या फिर औषधीय पौधा को गमले में लगाने के लिए बीज का सही चुनाव करना बहुत ज़रूरी है। अगर बीज सही नहीं तो आप और हम कितना भी मेहनत कर लें पौधा कभी भी सही से नहीं उगेगा। ऐसे में अजवाइन का पौधा लगाने के लिए सही बीज या पौधा का चुनाव करना बहुत ज़रूरी है।अजवाइन का बीज या फिर पौधा खरीदने के लिए आप किसी बीज भंडार या फिर किसी नर्सरी जा सकते हैं। इन दोनों ही स्थानों पर अच्छे किस्म के बीच या पौधा आसानी से मिल जाता है

पेट की समस्या का समाधान:

अपने घर के गमले में होगा फायदा ही फायदा जब भी हो पेट दर्द खाये इसकी पत्तिया The only benefit will be in the pot of your house, whenever you have stomach pain, eat its leaves.

पेट की समस्या का समाधान:

अजवाइन का पौधा लगाने से पहले करें ये काम Do these things before planting celery plant

अगर आप चाहते हैं कि अजवाइन का पौधा अच्छी ग्रोथ करें तो फिर पौधा लगाने से पहले कुछ बातों पर ध्यान देने की ज़रूरत है। जैसे-
जिस मिट्टी को आप गमले में डालने वाले हैं उसे फोड़कर एक दिन के लिए तेज धूप में रख दें। इससे मिट्टी में मौजूद कीड़े या जंगली घास मर जाते हैं या भाग जाते हैं।
अगले दिन मिट्टी में एक से दो कप खाद को डालकर अच्छे से मिक्स कर दें।
नोट-खाद के रूप में आप वर्मीकम्पोस्ट (केंचुआ खाद या गोबर) या फिर अन्य जैविक खाद का ही इस्तेमाल करें। केमिकल खाद के इस्तेमाल से पौधा कभी भी मर सकता है।
अब खाद युक्त मिट्टी को गमले में डालकर अच्छे से बराबर कर लें। मिट्टी बराबर करने के बाद 1-2 इंच गहरा मिट्टी में बीज को दबाकर ऊपर से मिट्टी डाल दें। मिट्टी डालने के बाद 1-2 माप पानी ज़रूर डालें।
नोट: अगर अजवाइन का बीज पौधे के रूप में है तो पौधे को गमले में बीचो-बीज डालें और साइड से मिट्टी को डालकर बराबर कर लें। मिट्टी बराबर करने के बाद पानी को ज़रूर डालें। Read ALso: 1 लाख रूपये से भी कम में मिल रही ये बेशकीमती कारे,सस्ती Cars में मिलेंगे सभी तगड़े फीचर्स और माइलेज भी होगा पॉवरफुल

पेट की समस्या का समाधान:

पेट की समस्या का समाधान करेगा सिर्फ एकमात्र पौधा लगाये Plant only one plant will solve the problem of stomach

पेट की समस्या का समाधान:

पेट की समस्या का समाधान करेगा सिर्फ एकमात्र पौधा लगाये Plant only one plant will solve the problem of stomach

पेट की समस्या का समाधान:

अजवाइन का पौधा लगाने के बाद इन बातों का रखें ध्यान Keep these things in mind after planting celery plant

जिस तरह अजवाइन का पौधा लगाने से पहले आपको कुछ बातों पर ध्यान देने की ज़रूरत है ठीक उसी तरह बीज लगाने के बाद भी आपको ध्यान देने की ज़रूरत है। जैसे-जब तक बीज 3-4 इंच बड़ा नहीं होता है तब तक बीज/पौधा को तेज धूप से दूर रखें।अजवाइन के पौधे को किसी भी कीड़े या फिर मौसमी कीड़े से दूर रखने के लिए कीटनाशक स्प्रे का छिड़काव करना बहुत ज़रूरी है। इसके लिए नेचुरल कीटनाशक स्प्रे का ही इस्तेमाल करें।
कीटनाशक स्प्रे का छिड़काव करने के अलावा समय-समय पर पौधे में जैविक खाद और पानी भी ज़रूर डालें।
लगभग 4-5 महीने के बाद पौधे में फल और फूल निकलने लगते हैं जिसे आप इस्तेमाल कर सकते हैं।

पेट की समस्या का समाधान:

RELATED ARTICLES

Most Popular