Wednesday, October 5, 2022
spot_img
HomeबैतूलMurder:जादू टोने के शक में हत्या,पत्थर से सिर कुचल दिया था मृतक...

Murder:जादू टोने के शक में हत्या,पत्थर से सिर कुचल दिया था मृतक का

आठनेर पुलिस द्वारा अंधे कत्ल का किया खुलासा

आठनेर (सांध्य दैनिक ख़बरवाणी)-थाना आठनेर क्षेत्र अंतर्गत ग्राम हिड़ली मेले में बुजुर्ग की हत्या का पुलिस ने खुलासा किया है ।

पुलिस से मिली जानकारी की अनुसार पशु अस्पताल हिड़ली के पीछे गणेश टेकपुरे के गोदाम की सीढी के पास राजाराम पिता बारिक धुर्वे उम्र 60 साल निवासी हिड़ली की लाश पड़ी है सूचना पर मौके पर पहुँचकर देखा जहाँ मृतक राजाराम धुर्वे का शव रक्त रजिंस अवस्था में पड़ा होकर सिर के पास खून लगा पत्थर पड़ा था

मृतक के सिर के बायी ओर चोट के गहरे निशान है बादल पिता मनेतराव कुमरे निवासी हिड़ली की रिर्पोट पर मर्ग क्र. 00/22 धारा 174 जा. फौ तथा अपराध क्र.00/22 धारा 302 भादवि का अज्ञात आरोपी के विरूध्द अपराध पर असल अपराध क्र. 133/22 धारा 302 भादवि का कायम कर अनुसंधान में लिया गया।

इस अंधे कत्ल के अज्ञात आरोपी की तलाश पतारसी हेतु पुलिस अधीक्षक व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन में एक पुलिस टीम का गठन किया गया जिस टीम के मार्गदर्शक अनुविभागीय पुलिस अधिकारी भैसदेही शिवचरण बोहित के निर्देशन में थाना प्रभारी आठनेर जयंत मर्सकोले अज्ञात आरोपी की तलाश पतारसी के दौरान परिजनों से पूछताछ कर कथन लिये गये जिसमें पाया गया की मृतक पर लोगों को जादू टोना करने की शक थी तथा मृतक के पडोसी गेदंराव धुर्वे के परिवार से विवाद था ।

विवेचना में आये तथ्यों के आधार पर गेन्दराव पिता गुलाबराव धुर्वे जाति गौड़ उम्र 36 साल निवासी हिड़ली से पूछताछ करने पर उसके द्वारा उसकी पत्नि लगातार बीमार रहने व मृतक आये दिन। नशे में विवाद करते रहता था उसी कारण आरोपी गेन्दराव पिता गुलाबराव धुर्वे जाति गौड़ उम्र 36 साल निवासी हिड़ली को अभिरक्षा में लेकर पूछताछ कर मेमो लेख किया गया।

जो दिनाँक 22.03.22 को राजाराम धुर्वे पशु अस्पताल के पास सोता पाये जाने पर उसके सिर में पत्थर पटककर उसकी हत्या कर दी।

राजाराम धुर्वे को सिर में बायी तरफ चोट आयी थी। आरोपी द्वारा मृतक गेन्दराव धुर्वे के द्वारा जादू टोना करने के शक पर पत्थर से मारकर जघन्य अपराध (हत्या) घटित किया है। इस अंधे कत्ल का खुलासा करने पर पुलिस अधीक्षक बैतुल एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में बनायी गयी भैसदेही अनुविभाग की आठनेर पुलिस टीम का उल्लेखनीय कार्य रहा है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments