MP Election – जिलाध्यक्ष ने राष्ट्रीय अध्यक्ष पर लगाया एबी फार्म बेचने का आरोप

मध्यप्रदेश के चुनावी इतिहास का संभवत पहला प्रकरण

MP Electionबैतूल अभी तक टिकट से वंचित दावेदार अपनी राजनैतिक कुंठा के चलते अपनो से वरिष्ठ नेताओं पर कभी टिकट बेचने का तो कभी दूसरे दलों से सांठगांठ करने का आरोप लगाते रहे हैं। लेकिन टिकट मिलने के बाद एबी फार्म तक मिल जाने के बावजूद एबी फार्म बेचे जाने का संभवत: यह मध्यप्रदेश के चुनावी इतिहास का पहला प्रकरण है। और यह आरोप बैतूल के गोंगपा के जिलाध्यक्ष द्वारा पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और राष्ट्रीय महासचिव पर लगाया है।

यह है पूरा प्रकरण | MP Election

आदिवासियों के हितों के लिए अपने आप को सबसे ऊपर मानने वाले राजनैतिक दल गोंडवाना गणतंत्र पार्टी में भी 2023 के विधानसभा चुनाव को लेकर कई जगह भ्रम की स्थिति निर्मित हुई है। बैतूल और आमला उम्मीदवार को लेकर दो बार अलग-अलग उम्मीदवारों के नाम सामने आए।

और इन दोनों विधानसभा सीटों पर दो-दो उम्मीदवारों मेंं क्रमश: बैतूल से शिवपाल सिंह राजपूत और हेमंत सरियाम ने नामांकन जमा किया और एबी फार्म भी प्राप्त किया लेकिन निर्वाचन आयोग ने पहला एबी फार्म जमा करने वाले उम्मीदवार शिवपाल सिंह को पार्टी का उम्मीदवार और दूसरे उम्मीदवार हेमंत सरियाम का फार्म निरस्त कर दिया है। लेकिन दूसरा उम्मीदवार यदि निर्दलीय फार्म भी भरता है तो वह फार्म 10 प्रस्तावक होने की स्थिति में निर्दलीय के रूप में स्वीकार किया जाएगा।

एबी फार्म बेचने की पुलिस में शिकायत | MP Election

गोंडवाना गणतंत्र पार्टी के जिलाध्यक्ष हेमंत सरियाम ने पार्टी के लेटर पेड पर राष्ट्रीय अध्यक्ष तुलेश्वर मरकाम और राष्ट्रीय महासचिव श्यामसिंह मरकाम की पुलिस अधीक्षक को शिकायत की है। इस लेटर पेड पर राष्ट्रीय अध्यक्ष के अलावा प्रदेश अध्यक्ष अमानसिंह पोरते, प्रदेश उपाध्यक्ष द्वारकानाथ उइके, स्वयं जिलाध्यक्ष हेमंत सरियाम का नाम भी प्रिंट है।

इस पत्र के द्वारा हेमंत सरियाम ने दो राष्ट्रीय पदाधिकारियों पर एबी फार्म बेचने का गंभीर आरोप लगाया है। और स्वयं के द्वारा राष्ट्रीय अध्यक्ष को टिकट और एबी फार्म के लिए दी गई समस्त राशि का उल्लेख किया है और यह भी आरोप लगाया है कि दूसरे उम्मीदवार से ज्यादा राशि लेकर उसे भी एबी फार्म दे दिया। हेमंत सरियाम ने इस राजनैतिक घटनाक्रम को स्वयं के अनुचित उपयोग, पैसों का दुरूपयोग और पार्टी के प्रति मेरी निष्ठा पर कुठाराघात पहुंचाना बताया।

इनका कहना…

शिकायत आई है, शिकायतकर्ता से साक्ष्य भी मांगे गए हैं। जांच की जा रही है उसके बाद जो तथ्य सामने आएंगे उसके अनुसार कार्यवाही की जाएगी।

सिद्धार्थ चौधरी, एसपी, बैतूल