spot_img
Homeमध्यप्रदेशMinister : सोसायटी चुनाव को लेकर सहकारिता मंत्री का बड़ा बयान, कमलनाथ...

Minister : सोसायटी चुनाव को लेकर सहकारिता मंत्री का बड़ा बयान, कमलनाथ को भी दिया करारा जवाब

बैतूल – श्री साई कर्मिशियल शोरूम के शुभारंभ अवसर पर प्रदेश के कद्दावर भाजपा नेता और सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान सोसायटी चुनाव को लेकर बड़ा बयान दिया है। श्री भदौरिया ने कहा एक माह में सोसायटियों के चुनाव होंगे। चुनाव प्राधिकरण एक इंडिपेंडेंट बॉडी रहती है। आईएएस कमिश्नर रहते है और पीएम ओझा अभी अध्यक्ष बने है। लगभग 50 हजार शासकीय-गैर शासकीय सोसायटियों के चुनाव एक माह में कराना है। इसको लेकर संगठन से चर्चा की जा रही है।

हम तो चाहते है किसान सोसायटी में गेहूं ना बेचे

समर्थन मूल्य पर किसान गेहूं नहीं बेच रहे है। इस सवाल को लेकर उन्होंने कहा कि हम तो यह चाहते है कि सोसायटियों में गेहूं ना आए। हम ये चाहते है कि महंगा से महंगा किसानों का गेहूं मंडियों में बिके। मै किसान बंधुओं से यह भी कहना चाहता हूं कि जहां ज्यादा लाभ हो वहां गेहूं बेचे। सोसायटी में गेहूं आना सेकण्डरी है। हमारा प्रथम उद्देश्य है कि किसानों को उनके अनाज की अच्छी कीमत मिल जाए। इसके लिए मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने दिल्ली जाकर अधिकतम एक्सपोर्ट कराने की व्यवस्था की है, उसका काम चालू हो गया है। सरकार का जो टारगेट है, वो पूरा हो जाएगा। पिछले बार का भी 6 लाख 40 हजार मीट्रिक टन गेहूं हमारे पास रखा था। 5 करोड़ लोगों को अनाज देते है। उतना हमारे पास व्यवस्थित रूप से आ जाएगा।

कमनलाथ को दिया करारा जवाब

बैतूल आए कमलनाथ ने शिवराज सिंह पर आरोप लगाया कि वे जनता को मूर्ख बना रहे है। इसको लेकर मंत्री श्री भदौरिया ने करारा जवाब देते हुए कहा कि जाकी रही भावना जैसी प्रभु मुरत देखी ज तैसी, जो जैसा होता है वैसा बोलता है। कमलनाथ जी भाषा में संयम रखें। जो कमलनाथ जी बोले है स्वयं पर सिद्ध होती है। बनी बनाई सरकार पटक डाली। इसी अंहकार के कारण। यह मूल रूप से एक गांव गरीब किसान का बेटा मुख्यमंत्री बनते है। ये बड़े लोग है इंडस्ट्रीयलिस्ट है इनको सहन नहीं होता है तो अंदर को जो गुस्सा है, वो जुबान के माध्यम से निकलता रहता है।

RELATED ARTICLES

Most Popular