Friday, August 12, 2022
spot_img
HomeबैतूलJila aspatal me pakdai farji nurse : जिला अस्पताल से पुलिस...

Jila aspatal me pakdai farji nurse : जिला अस्पताल से पुलिस ने फर्जी नर्स को पकड़ा, मरीजों को बेंच रही थी दवाई  

स्टाफ नर्स की यूनीफार्म में कर रही थी वसूली

बैतूल – जिले के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल में एक महिला स्टाफ नर्स की यूनीफार्म में मरीजों से उगाही करते हुए पकड़ाई है। इस महिला को अस्पताल प्रबंधन ने कोतवाली पुलिस के हवाले कर दिया है। आगे की कार्यवाही कोतवाली पुलिस द्वारा की जाएगी

पुलिस के हवाले की महिला

प्राप्त जानकार के अनुसार मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी डॉ ए.के.तिवारी ने बताया कि जिला चिकित्सालय बैतूल में मरीजों के इलाज के नाम पर रुपए मांगते हुए एक महिला पकड़ी गई है, जिसे अस्पताल प्रशासन द्वारा कोतवाली पुलिस के हवाले कर दिया गया है।

दवाईयां कर रही थी एकत्र

सिविल सर्जन डॉ अशोक बारंगा ने बताया कि जिला चिकित्सालय बैतूल में आज प्रात: 10:00 बजे मेटरनिटी वार्ड में एक महिला जिसने अपना नाम रंजना मर्सकोले बताया है, पकड़ी गई है जो कि नर्सिंग ऑफिसर की सफेद यूनिफॉर्म में थी और चिकित्सालय के दवा वितरण केंद्र से वार्ड के मरीजों की पर्ची पर बीटाडीन के ट्यूब सहित अन्य दवाइयां एकत्रित कर रही थी और दवाइयों को बेचने का प्रयास कर रही थी।

मरीजों से मांग रही थी रुपए

डॉ. बारंगा ने बताया कि जिला चिकित्सालय बैतूल में आए मरीजों से ऑपरेशन कराने और इलाज के नाम पर यह महिला पैसे मांगती है और यूनिफॉर्म का गलत इस्तेमाल कर मरीजों के बीच भ्रम फैलाती है तथा शासकीय दवाइयां प्राप्त कर उन्हें बेचने का कार्य भी करती है। महिला अपना अलग-अलग नाम बता रही है कभी अपना नाम रंजना मर्सकोले बता रही है तो कभी अपना नाम अंजलि भी बता रही है।

प्रबंधन रख रहा था नजर

आर.एम.ओ. डॉ रानू वर्मा द्वारा बताया गया कि विगत कुछ दिनों से लगातार जिला चिकित्सालय बैतूल में मरीजों से इलाज के नाम पर रुपए मांगे जा रहे हैं ऐसी शिकायतें प्राप्त हो रही थीं जिस कारण अस्पताल प्रशासन द्वारा बाहरी तत्वों पर विशेष नजर रखी गई। जिसके तहत की गई कार्यवाही में रंजना मर्सकोले नाम की अज्ञात महिला पकड़ी गई है, जिसे कोतवाली पुलिस के हवाले कर दिया गया है। यह महिला नर्सिंग ऑफिसर की सफेद यूनिफॉर्म में अक्सर मेटरनिटी,सर्जिकल शिशु एवं पीएनसी वार्ड में पैसे मांगते देखी गई है।

कार्यवाही की जाएगी प्रस्तावित

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ तिवारी ने कहा कि इस तरह की घटनाएं यदि बार-बार घटित होती हैं तो आवश्यक अनुशासनात्मक एवं दंडात्मक कार्यवाही प्रस्तावित की जाएगी। बाहरी तत्वों द्वारा जिला चिकित्सालय बैतूल में इस प्रकार की अनावश्यक दखलअंदाजी, रुपए मांगना एवं बार बार मरीजों को इलाज के नाम पर परेशान करना बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments