Thursday, August 18, 2022
spot_img
HomeबैतूलIndian roller : देखिए-सर्पमित्र ने कैसे बचाई नीलकण्ठ की जान

Indian roller : देखिए-सर्पमित्र ने कैसे बचाई नीलकण्ठ की जान

भीषण गर्मी से बेहाल फोरलेन किनारे पड़ा था बेसुध

मुलताई – एक से एक भयंकर सांपों को चंद पलों में ही पकड़कर काबू कर लेने वाले सर्पमित्र ने किस तरह से बेसुध पड़े नीलकण्ठ में जान फूंकी आई हम आपको बताते हैं। दरअसल फोरलेन किनारे भीषण गर्मी से एक नीलकण्ठ पक्षी बेसुध होकर पड़ा था। जैसे ही सर्पमित्र श्रीकांत शर्मा की नजर पड़ी वह नीलकण्ठ के पास गए और उसे उठाकर अपने हाथों की हथेली पर रखा और पानी पिलाया।

नीलकण्ठ के प्यासे कण्ठ में जैसे ही पानी पहुंचा उसमें जान आ गई और कुछ ही देर बाद नीलकण्ठ स्वच्छंद आसमान में उड़ गया।

सांप पकडऩे जा रहे थे सर्पमित्र

प्राप्त जानकारी के अनुसार मुलताई क्षेत्र के झिल्पा में एक सांप का रेस्क्यू करने जा रहे सर्पमित्र श्रीकांत विश्वकर्मा ने बुधवार की सुबह 10 बजे सड़क पर घायल अवस्था में पड़े नीलकंठ पक्षी का रेस्क्यू कर उसकी जान बचाई। मुलताई से घाट बिरोली मार्ग पर घाट बिरोली जोड़ के पास यह पक्षी घायल अवस्था में पड़ा था। इस पर श्रीकांत विश्वकर्मा की नजर गई तो उन्होंने पक्षी को उठाया और पास ही एक पोखर में ले जाकर उसे पानी पिलाया। पानी पीते ही मृतप्राय पक्षी में जान आ गई और वह थोड़ी देर बाद उड़ गया।

पानी पीते ही आई जान

श्रीकांत ने बताया कि यदि उस पक्षी को सड़क से नहीं उठाया जाता तो किसी भी गाड़ी की चपेट में वह पक्षी आ जाता और उसकी मौत हो जाती। प्रकृति प्रेमी श्रीकांत विश्वकर्मा अभी तक सैकड़ों साँपो का रेस्क्यू कर चुके हैं और उन्हें जंगल में सुरक्षित छोड़ चुके हैं। श्रीकांत विश्वकर्मा ने लोगों से आग्रह किया है कि गर्मी का समय है, ऐसे में अपने घर के आस-पास गैलरी में या गार्डन में घर की बाउंड्री वॉल पर छोटे छोटे कटोरी में पक्षियों के लिए पानी रखें । जिससे इस भीषण गर्मी में पक्षियों की भी जान बचाई जा सके।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments