क्या सुबह-सुबह घास पर नंगे पैर चलने से बढ़ती है आँखों की रौशनी? जानिए क्या कहता है विज्ञान

क्या सुबह-सुबह घास पर नंगे पैर चलने से बढ़ती है आँखों की रौशनी? जानिए क्या कहता है विज्ञान, आपने भी कभी सुना होगा कि सुबह दूब पर नंगे पैर चलने से आंखों की रोशनी तेज हो जाती है और चश्मे का नंबर कम हो जाता है। ये बातें अक्सर कही जाती हैं, लेकिन क्या वाकई ऐसा होता है? आइए, आज हम जानते हैं कि आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए क्या करना चाहिए और क्या नहीं करना चाहिए।

ये भी पढ़े- MP Weather Update: मध्यप्रदेश में मानसून ने दी दस्तक! इन जिलों में बारिश की संभावना

क्या सुबह-सुबह घास पर नंगे पैर चलने से बढ़ती है आँखों की रौशनी? जानिए क्या कहता है विज्ञान

आजकल कम उम्र में ही लोगों की आंखें कमजोर होने लगी हैं। आंखों को ठीक रखने के लिए लोग कई तरह के घरेलू नुस्खे भी अपनाते हैं। एक ऐसा ही नुस्खा है सुबह दूब पर नंगे पैर चलना। कहा जाता है कि इससे आंखों का नंबर कम हो जाता है। मगर वैज्ञानिकों और डॉक्टरों की मानें तो ये बात सच नहीं है। ऐसा कोई प्रमाण नहीं है कि नंगे पैर घास पर चलने से आंखों का नंबर कम हो सकता है।

हालांकि, डॉक्टरों का ये भी कहना है कि अगर कम उम्र में ही चश्मा लगा लिया जाए तो बड़े होने पर आंखों का नंबर कम हो सकता है।

आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए क्या करें?

आंखों की रोशनी बढ़ाने के दावों को लेकर कई तरह के मिथक प्रचलित हैं। आयुर्वेद में भले ही ऐसी बातों को माना जाता हो, लेकिन डॉक्टरों की मानें तो सिर्फ घास पर नंगे पैर चलने से आंखों की रोशनी नहीं बढ़ती और ना ही चश्मे का नंबर कम होता है। ये दावा गलत हैं।

कैसे कम हो सकता है चश्मे का नंबर?

कई बच्चे कम उम्र में ही चश्मा लगा लेते हैं। उम्र के साथ बच्चों का शारीरिक विकास भी होता है। ऐसे में कई बार बच्चों की आंखों की मटिया (eyeball) का आकार भी बढ़ जाता है। इस वजह से कई बार बच्चों का चश्मा कम नंबर का हो जाता है। यही एकमात्र स्थिति है, जिसमें चश्मे का नंबर कम हो सकता है। इसके अलावा आमतौर पर चश्मे का नंबर कम नहीं किया जा सकता है। हां, अगर आप नियमित रूप से चश्मा पहनते हैं, तो आंखों का नंबर स्थिर रहता है। अगर आंख कमजोर है और आप चश्मा नहीं लगाते हैं, तो आंखों पर जोर पड़ता है और नंबर बढ़ने का खतरा रहता है।

ये भी पढ़े- Ration Card e-KYC: 30 जून तक करवा लें ये काम! नहीं तो बंद हो जाएगा फ्री राशन

आंखों की रोशनी कैसे बढ़ाएं?

आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए हरी सब्जियों का ज्यादा से ज्यादा सेवन करना चाहिए। हरी सब्जियों में पाए जाने वाले विटामिन आंखों को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। हरी सब्जियों में एंटीऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं, जो आंखों के लिए बहुत फायदेमंद माने जाते हैं।

आंखों को धोएं भी

आजकल बढ़ती स्क्रीन टाइम और प्रदूषण के कारण भी आंखों की सेहत खराब हो रही है। इसके लिए जरूरी है कि आंखों की सही देखभाल की जाए। जब भी आप बाहर से आएं, तो आंखों को जरूर धो लें। इससे धूल, मिट्टी और प्रदूषण से आंखों को बचाया जा सकता है। दिन में 1-2 बार ठंडे पानी से आंखों को धोना चाहिए। आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए विटामिन ए से भरपूर फल और सब्जियों का सेवन करें।

1 thought on “क्या सुबह-सुबह घास पर नंगे पैर चलने से बढ़ती है आँखों की रौशनी? जानिए क्या कहता है विज्ञान”

Comments are closed.