मराठी में साली को किस नाम से पुकारा जाता है? कभी नहीं सुना होगा ऐसा यूनिक नाम

मराठी में साली को किस नाम से पुकारा जाता है? कभी नहीं सुना होगा ऐसा यूनिक नाम, जैसा कि आपने एक कहावत तो सुनी ही होगी जिसमे कहा जाता है कि साली आधी घरवाली होती है। लेकिन इसके पीछे का अर्थ यह है कि जीजा साली के बीच का रिश्ता मजाक-मस्ती का होता है जिसके कारण यह नाम रखा गया है। क्या आपको पता है मराठी में साली को क्या कहा जाता है? अगर नहीं पता तो हम आपको बताते है।

ये भी पढ़े- Optical Illusion: लकड़ियों के ढेर में छिपी बैठी है बिल्ली, ढूंढने में छूट बड़े-बड़े ज्ञानियों के पसीने

जैसा कि आप सभी जानते है जीजा और साली में मजाक मस्ती का भाव होता है। दोनों ही एक दूसरे की टांग खींचने में पीछे नहीं रहते है। ऐसे में हर राज्य में अपने-अपने रिश्ते को एक्सप्रेस करके का अलग तरीका होता है जैसे कोई अपने पिताजी को पापा, डैड, अप्पा, बापू जैसे शब्द का इस्तेमाल करता है। वैसे मराठी भाषा में पापा जी को बाबा बोलते है। ऐसे ही सभी रिश्तो को अलग-अलग नाम से बाइज्जत पुकारा जाता है।

मराठी में साली को किस नाम से पुकारा जाता है? कभी नहीं सुना होगा ऐसा यूनिक नाम

वैसे तो पत्नी की छोटी बहन को साली कहा जाता है लेकिन क्या आपको पता है कि मराठी भाषा में साली को किस नाम से पुकारा जाता है। तो आज हम आपको बताने जा रहे है। मराठी में साली को मेव्हणी या मेहूणी नाम से पुकारा जाता है। यह नाम कई को पता भी नहीं होगा। ऐसे ही मराठी भाषा में बुआ को आत्या, मम्मी को आई, भैया को दादा नाम से पुकारा जाता है।