Thursday, August 18, 2022
spot_img
HomeबैतूलAttack : रीछ ने किया चार ग्रामीणों को घायल,ग्रामीणों पर रीछ के...

Attack : रीछ ने किया चार ग्रामीणों को घायल,ग्रामीणों पर रीछ के हमले से फैली दहशत

बैतूल – घर के बाहर सो रहे ग्रामीणों पर रीछ ने हमला कर दिया जिससे 4 ग्रामीण घायल हो गए इनकी हालत गंभीर है। चारों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है ।

जिले के दक्षिण वन मंडल के तहत आने वाली भैंसदेही रेंज के अंतर्गत सिवनी और सिहार गांव में रविवार सुबह रीछ (भालू) ने जमकर आतंक मचाया।

इन गांवों में घर के बाहर सो रहे ग्रामीणों पर रीछ ने हमला कर दिया। इससे दोनों गांवों के 4 ग्रामीण बुरी तरह जख्मी हो गए हैं। उन्हें पहले भैंसदेही अस्पताल ले जाया गया। वहां से जिला अस्पताल बैतूल रेफर कर दिया। उधर वन विभाग की रेस्क्यू टीम भी मौके पर पहुंच गई है। टीम द्वारा रीछ की तलाश की जा रही है।

भीषण गर्मी की शुरुआत होते ही वन्य प्राणियों का रिहायशी क्षेत्रों की ओर रुख करना शुरू हो जाता है। वे जंगल में पानी खत्म होने से ग्रामों की ओर आते हैं। इस बीच लोगों से आमना-सामना होने या फिर पानी नहीं मिल पाने की बौखलाहट में हिंसक होकर वे हमला भी बोल देते हैं।

भैंसदेही से करीब 5 किलोमीटर दूर पोहर ग्राम पंचायत के ग्राम सिवनी और सिहार में भी आज सुबह एक रीछ के इसी हिंसक रूप का सामना लोगों को करना पड़ा।

उन्होंने बताया कि रीछ आज सुबह पहले सिवनी गांव पहुंची। वहां घर के बाहर सो रहे एक ग्रामीण पर हमला कर उसका मुंह बुरी तरह नोच लिया। इससे उसकी आंख, मुंह पर गंभीर चोट आई है। वहां से ग्रामीणों ने उसे खदेड़ा तो वह ग्राम सिहार आ धमकी।

सिहार ग्राम में भी घर के बाहर सो रहे तीन लोगों पर उसने हमला कर दिया। इससे इन लोगों के हाथ, पांव, पेट सहित अन्य स्थानों पर गहरे जख्म हो गए हैं। एक ग्रामीण का तो पांव टूट जाने की भी खबर है। यहां से भी उसे लोगों ने किसी तरह खदेड़ा और सभी घायलों को परिजन भैंसदेही अस्पताल ले गए। वहां प्राथमिक उपचार के बाद सभी को जिला अस्पताल रेफर किया है। उन्हें बैतूल लाया जा रहा है।

ग्रामीणों ने घटना की जानकारी वन विभाग को दी। इस पर वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची और रीछ की तलाश की जा रही है। बताया जाता है कि रीछ अभी भी उसी क्षेत्र में मौजूद है। इससे ग्रामीणों में भारी दहशत बनी है। इधर वन विभाग की भी कोशिश है कि रीछ को रिहायशी क्षेत्र से दूर कर दिया ताकि आक्रोशित ग्रामीण उसे कोई क्षति ना पहुंचा सके।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments