spot_img
Homeलाइफ स्टाइलSleep Disorder:हर दिन 8 घंटे की नींद जरुरी न लेने से होता...

Sleep Disorder:हर दिन 8 घंटे की नींद जरुरी न लेने से होता है बड़ा नुकसान, जानलेवा हो सकती है ये हरकत

कम सोना हो सकता है जानलेवा

हर दिन 8 घंटे की नींद जरुरी न लेने से होता है बड़ा नुकसान, जानलेवा हो सकती है ये हरकत आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी और बिजी लाइफस्टाइल की वजह से कई लोग 4 से 5 घंटे ही चैन से सो पाते हैं, जिसके बाद वो ऑफिस में अक्सर थके-थके नजर आते हैं. लगातार कई दिनों तक कम सोने से आपकी सेहत पर बुरा असर पड़ता है. अगर ऐसी ही स्थित बनी रही तो ये जानलेवा साबित हो सकती है. इसलिए जरूरी ये है कि आप पूरी नींद लेने की कोशिश करें।

पूरी नींद लेने की कोशिश करें.

दिनभर की थकान के बाद जब हम रात को सोने जाते हैं तो इसका मकसद आराम के साथ-साथ वो सारी एनर्जी वापस लाने की होती है जो हम काम करने की वजह से खोते हैं. ज्यादातर हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक एक हेल्दी एडल्ट को 7 से 8 घंटे की नींद लेनी जरूरी है, लेकिन हर किसी के नसीब में इतना रेस्ट नहीं होता है।

इन 2 बुरी आदतों से कर लें तौबा

अगर वक्त होने के बावजूद आप अपनी नींद पूरी नहीं कर पाते हैं तो स्लीप डिसऑर्डर (Sleep Disorder) से बचने के लिए आप कई तरह के उपाय कर सकते हैं. इसमें कुछ बुरी आदतें शामिल हैं जिससे जितनी जल्दी तौबा कर लें उतना ही अच्छा है।

1. शराब और गांजे की लत

शराब और गांजे का सेवन हमेशा से सेहत के लिए खराब माना गया है, इससे शरीर के कई अंगों को तगड़ा नुकसान पहुंचता है, लेकिन कुछ लोग चाह कर भी ये आदत नहीं छोड़ पाते. कुछ लोग समझते हैं कि नशे की वजह से नींद अच्छी आती होगी, लेकिन इसकी लत के कारण नींद आने की जगह भाग जाती है. इसलिए शराब और गांजे का इस्तेमाल अच्छी नींद पाने के लिए कभी न करें. स्लीप डिसऑर्डर की वजह से आप तनाव महसूस करेंगे।

2. गलत तरीके से अलार्म लगाना

कई लोग को ये पता है कि वो एक बार अलार्म बजने से नहीं जगेंगे, इसलिए वो मोबाइल फोन में स्नूज बटन (Snooze Button) का इस्तेमाल करते हैं. इससे थोड़ी-थोड़ी देर पर अलार्म बजता है और लोग इसे बार-बार बंद करते हैं. अगर आप भी ये हरकत करते हैं तो आज ही इसे छोड़ दें, क्योंकि इसके कारण कार्डियोवसकुलर सिस्टम (cardiovascular system) में स्ट्रेस पैदा होता है, जो सेहत के लिए बिलकुल अच्छा नहीं है।

यहां दी गई जानकारी घरेलू नुस्खों और सामान्य जानकारियों पर आधारित है. इसे अपनाने से पहले चिकित्सीय सलाह जरूर लें. खबरवाणी इसकी पुष्टि नहीं करता है .

RELATED ARTICLES

Most Popular