spot_img
HometrendingNikaye Chunav : फिर लगा विधायकों को जोर का झटका, निकाय चुनाव...

Nikaye Chunav : फिर लगा विधायकों को जोर का झटका, निकाय चुनाव में कांग्रेस को करारी शिकस्त

बैतूल{Nikaye Chunav} – पंचायत राज की संस्थाओं के चुनाव पूर्ण होने के दौरान ही नगरीय निकायों के चुनाव भी प्रारंभ हो गए थे। लेकिन पंचायत चुनाव के त्रिस्तरीय चुनाव का मतदान एवं मतगणना नगरीय निकायों के मतदान के पूर्व हो चुकी थी। जिले में हुए सभी नगरीय निकायों के चुनाव परिणाम आज सामने आ गए हैं।

पंचायत और नगरीय निकायों के चुनाव की विस्तृत समीक्षा करें तो यह स्पष्ट हो रहा है कि 2018 के विधानसभा चुनाव जीत में जिले की 5 में से 4 विधानसभाओं में कांग्रेस प्रत्याशी भारी बहुमत से चुनाव जीते थे लेकिन चार साल बीतते -बीतते इन सभी विधानसभा क्षेत्रों में स्थानीय संस्थाओं के चुनाव में कांग्रेस समर्थित एवं कांग्रेस के घोषित प्रत्याशियों की दयनीय स्थिति दिखाई दी। जिसको लेकर राजनैतिक समीक्षक यह मान रहे हैं कि वर्तमान विधायकों की लोकप्रियता में भारी गिरावट आई है जिसका खामियाजा उन्हें आने वाले 2023 के विधानसभा चुनाव में भुगतना पड़ सकता है।

भाजपा विधायक के क्षेत्र में भाजपा कमजोर

जिले में एकमात्र भाजपा विधायक आमला-सारनी सीट से डॉ. योगेश पंडाग्र्रे निर्वाचित हुए थे। इनके विधानसभा क्षेत्र में आमला नगर पालिका परिषद में चुनाव हुए थे। जहां भाजपा को 18 में से मात्र 8 सीट मिली है। और दो जीते निर्दलियों में एक निर्दलीय को तो भाजपा ने टिकट देने के बाद काट दी थी। लेकिन वह चुनाव जीत गई। अब उसी के भरोसे भाजपा दूसरी निर्दलीय जीती काशीबाई को अध्यक्ष बनाने का प्रयास करेंगी। आमला विधानसभा क्षेत्र के सारनी नगर पालिका में चुनाव कुछ महीने बाद होना और यहां भी भाजपा की स्थिति अच्छी नहीं बताई जा रही है। पंचायत चुनाव में आमला क्षेत्र से जिला पंचायत चुनाव में वार्ड क्रं. 14 कांग्रेस समर्थित हितेश निरापुरे ने भाजपा समर्थित सुखदयाल को चुनाव हराया था। वहीं सारनी क्षेत्र में भी वार्ड क्रं. 7 में कांग्रेस समर्थित संगीता परते ने भाजपा समर्थित घोषित उम्मीदवार फूलचंद मर्सकोले को चुनाव हराया था। लेकिन जिपं सदस्यों में वार्ड क्रं. 12 से देवकी यादव चुनाव जीती हैं जिन्हें बाद में भाजपा ने अपना बता दिया है। वार्ड क्रमांक 13 से भाजपा की अनिता मर्सकोले चुनाव जीती हैं।

बैतूल क्षेत्र में भाजपा का कब्जा

बैतूल विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत बैतूल नगर पालिका में 33 में से 23 में भाजपा एवं 10 में कांग्रेस चुनाव जीती। वहीं बैतूलबाजार नगर परिषद में 15 में से 12 में भाजपा और 3 में कांग्रेस जीती है। बैतूल शहर लम्बे समय से भाजपा का गढ़ रहा है, लेकिन विधानसभा चुनाव में निलय डागा ने यहां से लीड ली थी। इसी तरह से पंचायत चुनाव मेंं जिला पंचायत सदस्य के लिए विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत वार्ड क्रं. 1 से भाजपा के हंसराज धुर्वे और वार्ड क्रं. 2 से भाजपा के शैलेंद्र कुंभारे भारी बहुमतों से जीते हैं। वहीं विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत तीसरे निर्वाचन क्षेत्र क्रं. 3 में भाजपा के जगन उइके चुनाव जीत गए। इन तीनों क्षेत्रों से कांग्रेस के घोषित उम्मीदवार सफल नहीं हो सके। क्षेत्र के कांग्रेस विधायक निलय डागा ने दोनों ही चुनाव में कांग्रेस समर्थित उम्मीदवारों के लिए प्रचार-प्रसार में कोई कमी नहीं छोड़ी थी।

भैंसदेही में भी कांग्रेस की डूबी लुटिया

भैंसदेही विधानसभा क्षेत्र से कांगे्रस के विधायक धरमूसिंह विधानसभा चुनाव में बड़ी लीड से चुनाव जीते थे। लेकिन उनके विधानसभा क्षेत्र में भैंसदेही नगर परिषद के आए परिणामों में 15 से 11 सीटों पर भाजपा चुनाव जीत गई है। इसी तरह से जिला पंचायत सदस्यों के चुनावों में भी भाजपा ने भैंसदेही विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत वार्ड क्रं. 17 में भाजपा की सुमन रामकिशोर अखण्डे, वार्ड क्रं. 18 से भाजपा के दुर्गाचरण राजा ठाकुर, वार्ड क्रं. 19 से जयस के रामचरण इड़पाचे एवं वार्ड क्रं. 21 से भाजपा की रेखा पांसे, वार्ड क्रं.22 से सोनू सुनील भलावी, वार्ड क्रं. 23 से जयस के संदीप धुर्वे निर्वाचित हुए हैं। इस तरह से कांग्रेस समर्थित किसी भी उम्मीदवार को भैंसदेही-भीमपुर विधानसभा क्षेत्र में सफलता नहीं मिली।

मुलताई विधानसभा में भी कांग्रेस पिछड़ी

आज मुलताई नगर पालिका के सामने आए चुनाव परिणामों में कांग्रेस को सफलता नहीं मिली। यहां पर भाजपा को स्पष्ट बहुमत मिल गया है। मुलताई क्षेत्र के कांग्रेस विधायक सुखदेव पांसे 15 महीने की कमलनाथ सरकार में केबीनेट मंत्री रहे हैं इसके बावजूद भी उनके क्षेत्र में जिला पंचायत सदस्यों के निर्वाचन में पट्टन जिला पंचायत क्षेत्र क्रं. 16 से चुनाव जीती सरस्वती नागले ने कांग्रेस की लाज रख ली। अन्यथा विधानसभा क्षेत्र के बाकी सभी जिला पंचायत निर्वाचन क्षेत्रों में कांग्रेस को बुरी तरह से मुंह की खानी पड़ी है। जिला पंचायत क्षेत्र क्रं. 10 से भाजपा के दिग्गज नेता राजा पंवार चुनाव जीते हैं। तो वार्ड क्रं. 11 से भाजपा की ही कंचना महेंद्र कासलेकर सफल हुई हैं।

घोड़ाडोंगरी में कांग्रेस दिखी भाजपा पर भारी

घोड़ाडोंगरी के पहले हुए नगर परिषद के चुनाव में कांग्रेस ने बड़ी सफलता प्राप्त की है। यहां की 15 सीटों में से कांग्रेस ने 8 पर कब्जा कर लिया है। वहीं 5 पर भाजपा और दो निर्दलीय जीते है। इसी तरह से जिला पंचायत चुनाव में भी विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत वार्ड क्रं. 6 से कांग्रेस के राजेंद्र कवड़े सफल हुए थे। वहीं घोड़ाडोंगरी विधानसभा का कुछ भाग वार्ड क्रं. 7 से जुड़ा है जहां कांग्रेस की संगीता परते चुनाव जीती हैं। बाकी चार निर्वाचन क्षेत्र से चारों ही भाजपा के उम्मीदवार जीते हैं जिनमें मंगल सिंह धुर्वे, सावित्री उइके, सीमा विश्वास एवं बिल्किस बारस्कर शामिल हैं। घोड़ाडोंगरी से कांग्रेस के ब्रम्हा भलावी विधायक है और लंबे समय बाद इस विधानसभा में कांग्रेस को सफलता मिली थी।

RELATED ARTICLES

Most Popular