HometrendingMP Congress - नेता प्रतिपक्ष का नाम होगा दिल्ली से तय

MP Congress – नेता प्रतिपक्ष का नाम होगा दिल्ली से तय

कांग्रेस विधायक दल की बैठक में नहीं आए कमलनाथ

MP Congressभोपाल – एक तरफ सत्तारूढ भाजपा में 3 तारीख को चुनाव परिणाम आने के 10 दिन के भीतर विधायक दल का नेता तय हो गया और डॉ. मोहन यादव ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली। वहीं विपक्ष दल कांगे्रस में हार का ऐसा सदमा लगा कि चुनाव परिणाम के 11 दिन बाद हुई कांग्रेस विधायक दल की पहली बैठक में मुख्यमंत्री के दावेदार रहे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ही बैठक से दूर रहे और बैठक में एक लाईन का प्रस्ताव पास हो गया कि नेता प्रतिपक्ष का फैसला कांग्रेस हाईकमान करेगा।

इस बैठक में प्रदेश प्रभारी रणदीप सिंह सुरजेवाला, स्क्रीनिंग कमेटी के चैयरमेन भंवर जितेन्द्र सिंह और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह शामिल हुए। गौरतलब है कि विपक्ष में बैठने के कारण अब एक मात्र एक मात्र नेता प्रतिपक्ष का पद ही ऐसा है जिसमें सरकारी सुविधाएं मिलती है इसलिए नेता प्रतिपक्ष के लिए दावेदारों की लम्बी लाईन लग गई है और इसी के चलते विधायक दल को एक लाईन का प्रस्ताव पारित करना पड़ा और कांग्रेस विधायक दल का नेता चुनने की जिम्मेदारी दिल्ली को देनी पड़ी।

मिली जानकारी के अनुसार नेता प्रतिपक्ष के लिए सबसे बड़ा नाम पूर्व नेता प्रतिपक्ष और कैबिनेट मिनीस्टर रहे अनुभवी अजय सिंह राहुल का सबसे ऊपर है। इसके अलावा चम्बल के विधायक और पूर्व मंत्री रामनिवास रावत, ओबीसी कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और सतना विधायक सिद्धार्थ कुशवाह, अमरपाटन से विधायक और पूर्व मंत्री राजेन्द्र सिंह, धार जिले के गंदवानी सीट से चार बार के आदिवासी विधायक उमंग सिंगार, कांग्रेस की सेंट्रल इलेक्शन कमेटी के सदस्य एवं डिंडोरी से चौथी बार विधायक ओमकार सिंह मरकाम एवं कमलनाथ सरकार में गृह मंत्री रहे छटवीं बार के विधायक बड़वानी जिले के बाला बच्चन नेता प्रतिपक्ष की दौड़ में बताए जा रहे हैं। यह भी माना जा रहा है कि कमलनाथ के नाम पर सहमति बनी तो बाला बच्चन प्रदेश के नए नेता प्रतिपक्ष होंगे।

RELATED ARTICLES

Most Popular