Tuesday, August 16, 2022
spot_img
Hometrendingकर्मचारियों के लिए रहत भरी खबर, मंत्रालय ने जारी किया आदेश 1...

कर्मचारियों के लिए रहत भरी खबर, मंत्रालय ने जारी किया आदेश 1 अगस्त से मिलेग लाभ।

कर्मचारियों के लिए रहत भरी खबर, मंत्रालय ने जारी किया आदेश 1 अगस्त से मिलेग लाभ।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। रेलवे ने अपने कर्मचारियों के लिए अहम जानकारी जारी की है. रेल मंत्रालय के आदेश के मुताबिक एचआरएमएस ट्रांसफर मॉड्यूल का काम पूरा कर लिया गया है. इसे 1 अगस्त 2022 से लॉन्च किया जाएगा। मंत्रालय ने इसकी तैयारी कर ली है। वहीं, पूर्वी और दक्षिणी रनवे पर इसका परीक्षण किया गया। डिजिटलीकरण के हिस्से के रूप में एचआरएमएस के माध्यम से स्थानांतरण के कार्यान्वयन से लाखों रेल कर्मचारियों को इसका लाभ मिलेगा।

एचआरएमएस ट्रांसमिशन मॉड्यूल का काम पूरा हो चुका है और इसका परीक्षण पूर्व/दक्षिण रेलवे पर भी किया जा चुका है। मॉड्यूल शुरू करने की प्रारंभिक तिथि 01.08.2022 है। इस संबंध में, यह निर्णय लिया गया है कि स्थानांतरण मॉड्यूल के उपयोग पर प्रशिक्षण अनुबंध-ए के रूप में संलग्न अनुसूची के अनुसार 15.07.2022 को शुरू हो गया है। रेलवे इस प्रशिक्षण को शुरू करने के लिए स्थानांतरण संबंधित मॉड्यूल के लिए अधिकारियों की नियुक्ति कर सकता है।
मॉड्यूल को चलाने से पहले, इंटर रेलवे/इंटर डिवीजन ट्रांसफर से संबंधित लीगेसी डेटा को एचआरएमएस मॉड्यूल के ट्रांसफर मॉड्यूल में दर्ज किया जाना चाहिए। ट्रांसफर मॉड्यूल और यूजर मैनुअल में लीगेसी डेटा दर्ज करने की प्रक्रिया अनुलग्नक-बी के रूप में संलग्न है। ट्रांसफर मॉड्यूल की निरंतरता और सफलता को बनाए रखने के लिए पुराने डेटा को दर्ज करना बहुत महत्वपूर्ण है, क्योंकि 01.08.2022 से पूरी ट्रांसफर प्रक्रिया केवल एचआरएमएस के माध्यम से ही संचालित की जाएगी। इस प्रकार पुराने डेटा दर्ज करते समय उचित सावधानी बरती जा सकती है और पूरी प्रक्रिया 25/07/2022 तक पूरी की जा सकती है।

यह भी सुनिश्चित किया जा सकता है कि सभी मौजूदा मामले दर्ज हैं, चाहे उन्हें स्वीकार किया गया हो या नहीं, क्योंकि भविष्य में कर्मचारी सीधे ऑनलाइन पंजीकरण कर सकेंगे। मौजूदा आवेदकों को डाटा अपलोड करते समय अपना नाम छूट जाने से कोई नुकसान नहीं होगा। साथ ही विभाग को प्राथमिकता के आधार पर सूची तैयार करने और w.r.t. आईआरटी और आईडीटी के तहत अलग-अलग सूचियां और एकीकृत सूचियां तैयार करें। यही कार्रवाई 20 जुलाई 2022 तक पूरी की जा सकती है।

भारतीय रेलवे ने पूरी तरह से डिजीटल ऑनलाइन मानव संसाधन प्रबंधन प्रणाली (एचआरएमएस) शुरू की है। बेहतर उत्पादकता और कर्मचारियों की संतुष्टि का लाभ उठाने के लिए मानव संसाधन प्रबंधन प्रणाली (एचआरएमएस) भारतीय रेलवे के लिए एक उच्च प्राथमिकता वाली परियोजना है। साथ ही, भारतीय रेलवे में ट्रांसफर मॉड्यूल एचआरएमएस को लागू करने की तैयारी चल रही है। जबकि इसकी संभावित लॉन्च तिथि 08/01/2022 है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments