HometrendingEPF Hike - वर्ष 2023-24 के लिए PF की ब्याज दरों में बढ़ोत्तरी 

EPF Hike – वर्ष 2023-24 के लिए PF की ब्याज दरों में बढ़ोत्तरी 

अब 1 लाख जमा होने पर मिलेगा ₹8,250 इंटरेस्ट 

EPF Hikeएम्प्लॉईज प्रोविडेंट फंड (EPF) अकाउंट में जमा राशि पर 8.25% ब्याज मिलेगा। एम्प्लॉईज प्रोविडेंट फंड ऑर्गेनाइजेशन (EPFO) के सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टी ने आज, अर्थात् शनिवार (10 फरवरी), अपनी 235वीं बैठक में इस सिफारिश की है। सरकार की मंजूरी के बाद यह लागू हो जाएगा। इससे देश के 6 करोड़ से अधिक कर्मचारियों को लाभ होगा।

1 लाख पर 8,250 रुपए का ब्याज | EPF Hike

श्रम एवं रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव ने आज, यानी (शनिवार, 10 फरवरी), इस बारे में जानकारी दी है। नई दरें लागू हो जाने के बाद, अगर आपके EPF अकाउंट में 1 लाख रुपए जमा हैं, तो इस पर साल में 8,250 रुपए का ब्याज मिलेगा।

पिछले वर्ष की वृद्धि 

पिछले साल मार्च में EPFO ने EPF की ब्याज दर को 8.15% तय किया था। EPFO एक्ट के तहत, कर्मचारी की बेसिक सैलरी प्लस DA का 12% PF अकाउंट में जमा किया जाता है। कंपनी भी कर्मचारी की बेसिक सैलरी प्लस DA का 12% योगदान करती है। कंपनी के 12% योगदान में से 3.67% PF अकाउंट में जमा किया जाता है और शेष 8.33% पेंशन स्कीम में जाता है।

1952 में PF पर ब्याज दर | EPF Hike  

1952 में PF पर ब्याज दर केवल 3% थी। हालांकि, इसके बाद इसमें वृद्धि हुई। 1972 में यह 6% और 1984 में यह पहली बार 10% के ऊपर पहुंची। PF धारकों के लिए सबसे अच्छा समय 1989 से 1999 तक था, जब PF पर 12% ब्याज मिलता था।

इसके बाद ब्याज दर में कमी आई। 1999 के बाद, ब्याज दर कभी भी 10% के पास नहीं पहुंची। 2001 के बाद से यह 9.50% के नीचे ही रही है। पिछले सात सालों से यह 8.5% या उससे कम है।

PF में ब्याज दर के फैसले के लिए सबसे पहले फाइनेंस इन्वेस्टमेंट एंड ऑडिट कमेटी की बैठक होती है। यह कमेटी इस वित्तीय वर्ष में जमा हुए पैसों के बारे में हिसाब देती है। इसके बाद CBT की बैठक होती है। CBT के निर्णय के बाद, वित्त मंत्रालय की सहमति के बाद ब्याज दर लागू की जाती है। ब्याज दर पर फैसला वित्तीय वर्ष के अंत में होता है।

Source Internet 
RELATED ARTICLES

Most Popular