Monday, July 4, 2022
spot_img
HomeदेशDeltacron : भारत पहुंचा डेल्टाक्रोन, जाने कितना खतरनाक है ये वेरिएंट

Deltacron : भारत पहुंचा डेल्टाक्रोन, जाने कितना खतरनाक है ये वेरिएंट

नई दिल्ली – भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus in India) के नए मामलों में कमी आने के बाद लोगों ने थोड़ी राहत की सांस ली है, लेकिन इस बीच देश में कोविड-19 के एक नए वेरिएंट ने दस्तक दी है।

कोरोना वायरस का नया वेरिएंट डेल्टा (Delta) और ओमिक्रॉन (Omicron) वेरिएंट मिलकर बना है. डेल्टा और ओमिक्रॉन से मिलकर बना डेल्टाक्रॉन (Deltacron) वेरिएंट भारत पहुंच गया है और कई राज्यों में इसके मामले सामने आए हैं.

एक्सपर्ट्स की मानें तो ये एक सुपर सुपर-म्यूटेंट वायरस, जिसका वैज्ञानिक नाम BA.1 + B.1.617.2 है. एक्सपर्ट्स ने कहा है कि डेल्टा और ओमिक्रॉन से मिलकर बना एक हाइब्रिड स्ट्रेन है, जिसे सबसे पहले साइप्रस के रिसर्चर्स ने पिछले महीने खोजा था।

उस समय तो वैज्ञानिकों ने इसे लैब में हुई एक तकनीकी गलती समझा था. लेकिन अब इसके ब्रिटेन में केस सामने आ रहे हैं. डेल्टाक्रॉन (Deltacron) कोरोना वायरस का एक हाइब्रिड वेरिएंट है जो डेल्टा और ओमिक्रॉन वेरिएंट से मिलकर बनता है.

कोविड के नए वेरिएंट से बढ़ेगा संक्रमण

वैज्ञानिकों का कहना है कि डेल्टा और ओमिक्रॉन से मिलकर बना नया वायरस कितना खतरनाक है, इसको लेकर कई स्टडी चल रही हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक, जनवरी 2022 में फ्रांस में इस वायरस के फैलने की शुरुआत हुई थी और पहला मामला सामने आया था।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) का कहना है कि ओमिक्रॉन और डेल्टा का रिकॉम्बिनेंट वायरस फैल रहा है. WHO की साइंटिस्ट मारिया वान करखोव ने कहा है कि SARSCov2 के ओमिक्रॉन और डेल्टा वेरिएंट के मिलकर फैलने की आशंका है. इनका सर्कुलेशन तेजी से हो सकता है.

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments