Betul News – मुस्कुराईए! आप मांस नगरी बैतूल में प्रवेश कर रहे हैं

बढ़ते अतिक्रमण ने यातायात किया प्रभावित, लग रहा जाम

Betul Newsबैतूल पिछले कुछ वर्षों में बैतूल शहर और उसके आसपास के उपनगर बडोरा में सडक़ों के दोनों ओर अतिक्रमण ने इतना विशाल रूप ले लिया है कि चलना भी दुभर हो गया है। और यदि एक साथ दो वाहन आमने-सामने से आ जाएं तो जाम लगना शुरू हो जाता है। और यह स्थिति बैतूल शहर के हर मुख्य मार्ग की भी हो गई है। कोई रोकने और बोलने वाला नहीं रह गया है। यहां तक की यातायात से संबंधित अधिकारी भी अतिक्रमण को देखकर आंख बंद कर लेते हैं। यही स्थिति बैतूल शहर में प्रवेश करते टाईम हो रही है।

अतिक्रमणकारियों ने शहर के हर प्रवेश द्वार पर खुले मांस की दुकानें शुरू कर दी है। जिसको रोकने वाले संबंधित नगर पालिका और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी भी मौन साधे हुए हैं। वहीं इन दुकानों से एक तरफ बीमारी बढऩे की संभावनाएं बढ़ गई है वहीं शाकाहारी व्यक्तियों को मांस की दुकानों को देखकर नाक-मुंह बंद कर निकलने को मजबूर होना पड़ता है। इसके अलावा शहर के भीतर भी खुलेआम मांस की दुकानें बिना लाइसेंस के संचालित हो रही है। अधिकृत मटन मार्केट में यदि सभी दुकानें एक साथ लगे तो अवैध दुकानें अपने आप बंद हो जाएगी और लोगों को बदबू और गंदगी से राहत मिलेगी।

बडोरा रोड पर खुली मांस दुकान | Betul News

बैतूल-भोपाल पुराने राजमार्ग पर बने ओव्हर ब्रिज के ठीक नीचे अतिक्रमणकारी खुला मांस बेच रहे हैं। वहीं थोड़ा आगे जाने पर रेलवे के अंडर ब्रिज पर भी यही स्थिति निर्मित हो रही है। यहां भी मांस लकड़ी पर लटकाकर बेचा जा रहा है और वही काटा भी जा रहा है। कुछ दिनों पूर्व प्रशासन द्वारा अंडरब्रिज के पास की दुकान हटाई गई थी लेकिन वापस उसी स्थान पर लग गई है।

सारनी मार्ग पर बिक रहा खुला मांस

इसी तरह की स्थिति बैतूल-सारनी मार्ग की भी है जहां मांस की दुकानें कमानी गेट से ही शुरू हो जाती है। और शर्मा पेट्रोल पंप के ठीक सामने भी ऐसी ही मांस की दुकान संचालित हो रही है। जिसको लेकर बताया जा रहा है कि किसी भी नियम कानून का पालन नहीं हो रहा है। और नपा और स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों की जानकारी में होने के बावजूद इसको रोकने के भी कोई प्रयास नहीं हुए हैं।

सेंट्रल स्कूल के सामने भी खुली है दुकान | Betul News

गंज में विनोबा वार्ड में स्थित सेंट्रल स्कूल के सामने भी ऐसी ही मांस की दुकान स्थित है। जिसको लेकर पूर्व में भी कई बार विवाद की स्थिति निर्मित हुई लेकिन कोई ठोस कार्यवाही नहीं हुई।

बैतूल-आमला मार्ग पर भी बिक रहा मांस

इसके अलावा बैतूल-आमला-बोरदेही मार्ग पर उपनगर हमलापुर में भी ऐसी ही मांस की दुकान देखी जा सकती है। जानकारी तो यह भी मिली है कि बैतूल शहर और उसके आसपास खुली अवैध मांस की दुकानों के पास ना तो किसी प्रकार का लाइसेंस है और ना ही जिस स्थान पर दुकान खुली है उस भूमि का स्वामित्व दुकानदार के पास है।

इतवारी बाजार में खुले में बिकता मांस

बैतूल शहर में श्मशान एवं कब्रिस्तान के पास साप्ताहिक बाजार के दिनों में सडक़ पर ही दुकानें लगाकर मांस बेचा जा रहा है। यही स्थिति सदर क्षेत्र में भी है जहां बाजार के दिन खुले में मांस बिकता है। इसी तरह से अभिनंदन सरोवर के पास भी अवैध दुकान लगाकर मांस बेचा जा रहा है।

मटन मार्केट होने के बाद अवैध लगा रहे दुकान | Betul News

कोठीबाजार के शिवाजी वार्ड में पूर्व में मटन मार्केट संचालित हो रहा था जिसके लिए नगर पालिका ने हॉल भी निर्मित किया गया था लेकिन शहर के बीचों बीच होने के कारण और कई आपत्तियों के चलते मटन मार्केट सदर बैलबाजार के पास ओव्हर ब्रिज के बाजू में खोला गया था और इसके लिए शेड सहित समस्त व्यवस्था थी लेकिन शहर के विभिन्न क्षेत्रों में लोगों ने अवैध रूप से दुकानें खोल ली जबकि इन सभी को इस मटन मार्केट में ही लाइसेंस लेकर दुकानें लगा था।

इनका कहना…

यह मामला संज्ञान में है, इसके लिए नगरपालिका मुहिम चलाकर ऐसी दुकानों को हटाने की कार्रवाई करेगी।

ब्रजगोपाल परते, प्रभारी सीएमओ, नपा बैतूल