Curry Leaves Water Benefit – खाली पेट ‘करी पत्ते’ का पानी पिने के फयदे जान हो जाओगे हैरान,

By
On:
Follow Us

Curry Leaves Water Benefit – खाली पेट ‘करी पत्ते’ का पानी पिने के फयदे जान हो जाओगे हैरान,

Benefits Of Curry Leaves Water: आमतौर पर करी पत्ते का इस्तेमाल खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए किया जाता है। सब्जी, पोहा, करी समेत कई डिशेज में इन हरे पत्तों का उपयोग किया जाता है। ये पत्ते स्वादिष्ट होने के साथ सेहत से भी भरपूर होते हैं। औषधीय गुणों से भरपूर करी पत्तों की खुशबू काफी अच्छी होती है। इन पत्तों में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा अधिक होती है, जो शरीर की कई समस्याओं को दूर करने में कारगर है।

ये भी पढ़े – OnePlus Pad Go भारत में आज हुआ लॉन्च, खरीदने से पहले जान ये जरुरी बात,

करी पत्ते का पानी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है। अगर आप अपने दिन की शुरुआत इस पानी से करते हैं, तो इससे आपको कई फायदे मिल सकते हैं। यह डिटॉक्स ड्रिंक के रूप में काम करता है। आइए जानते हैं, रोजाना सुबह में करी पत्ते का पानी क्यों पीना चाहिए।

पाचन तंत्र को दुरुस्त करता है

फिट रहने के लिए पाचन का स्वस्थ रहना काफी जरूरी है। करी पत्ते में कुछ ऐसे एंजाइम होते हैं, जो पाचन शक्ति बढ़ाते हैं। अगर आप रोजाना सुबह में करी पत्ते का पानी पीते हैं, तो इससे मल त्याग की क्रिया आसान होती है और आप पाचन से जुड़ी समस्याओं से बच सकते हैं।

ये भी पढ़े – Mandi Bhav 7 October 2023 – जानें आज के ताज़ा अनाज, दालों, सब्जिओ के मंडी भाव,

तनाव कम करने में मददगार

आजकल तनाव की समस्या आम होती जा रही है। स्ट्रेस से राहत दिलाने में करी पत्ते आपकी मदद कर सकते हैं। करी पत्ते का पानी पीने से दिमाग शांत हो सकता है, ऐसे में आप अच्छा महसूस कर सकते हैं।

हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा मिलता है

करी पत्ते में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा अधिक होती है, जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद कर सकते हैं। नियमित रूप से करी पत्ते का पानी पीने शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल कम हो सकता है, जिससे हृदय रोग के जोखिम कम हो सकते हैं।

ये भी पढ़े – Anand Mahindra – टी शर्ट पर लिखे 55 नंबर की वजह जानने लगी होड़  

डायबिटीज के मरीजों के लिए फायदेमंद

डायबिटीज की समस्या में करी पत्ते कारगर साबित हो सकते हैं। ब्लड शुगर को कंट्रोल करने के लिए आप रोजाना सुबह करी पत्ते का पानी पी सकते हैं। ये पत्ते कार्बाज़ोल एल्कलॉइड का समृद्ध स्रोत हैं, जो टाइप 2 डायबिटीज के मरीजों में ग्लूकोज के स्तर को मैनेज करने में मदद कर सकते हैं।