कौन है Parle-G के कवर पर आने वाली यह बच्ची? जानिये

कौन है Parle-G के कवर पर आने वाली यह बच्ची? जानिये, एक समय ऐसा था जब हर किसी के जुबान पर एक ही बिस्किट का नाम था वो है Parle-G जिसे हमने बचपन में खाया होगा। ऐसे में हम जब भी चाय पीते है तो इस बिस्किट की याद आ ही जाती है। ऐसे में आपने कभी ध्यान से देखा होगा तो Parle-G के पैकेट पर एक छोटी सी लड़की की फोटो है जो सालो पहले लगाई हुई थी। आइये जानते है कौन है वह लड़की? और आज कितनी बड़ी हो चुकी है…

ये भी पढ़े- Viral Video: जब शादी के मंडप में घुस आया गुस्सैल सांड! फिर जो हुआ…देखे Video

आज के ज़माने में कई प्रकार की कूकीज और स्वादिस्ट टोस्ट आने लग गयी है लेकिन एक समय ऐसा था कि सिर्फ जब Parle-G बिस्किट को पसंद किया जाता था। उस समय गर्मागर्म चाय के साथ पारले जी बिस्किट डुबोकर खाया जाता था। जब भी हलकी-फुलकी भूख होती थी तब पारले जी बिस्किट खा लिया जाता था।

3 महिला से जुड़ा छपी हुई लड़की की तस्वीर

ऐसे में आपने गौर किया होगा कि Parle-G बिस्किट के ऊपर एक लड़की की तस्वीर छपी हुई है जो काफी ज्यादा चर्चा में रही है। जानकारी के अनुसार चला था कि इस तस्वीर से 3 महिलाओ का नाम जोड़ा गया था जिसमे पहली महिला नीरू देशपांडे, दूसरी महिला गुंजन गंडानिया और तीसरी महिला सुधा मूर्ति से जोड़ा गया था।

इस तस्वीर का नहीं किसी से वास्ता

लेकिन इन सभी चर्चाओं के बीच पारले के प्रोडक्ट मैनेजर ने बयान दिया कि इस पैकेट पर दिखने वाली बच्ची की तस्वीर का वास्ता किसी से नहीं है वह सिर्फ एक काल्पनिक प्रतिकृति है जो एक चित्रकार द्वारा 60 के दशक में इस तस्वीर को बनाया गया था।

ये भी पढ़े- iPhone की नींदे उड़ा रहा Xiaomi का ये धाकड़ स्मार्टफोन, DSLR जैसी कैमरा क्वालिटी के साथ देखे कीमत और फीचर्स

कब शुरू हुई थी Parle-G कंपनी?

Parle-G बिस्किट कंपनी की शुरुवात अंग्रेजो के जमाने में साल 1939 में हुई थी। उस समय अंग्रेजो के लिए कंपनी बिस्किट बनाया करती थी। यह बिस्किट सस्ता होने के साथ-साथ टेस्टी भी होता था जिसकी वजह से उस जमाने में अंग्रेजी कंपनियों के बिस्किट की बिक्री बाजार में खूब थी। उस समय से लेकर आज तक भी Parle-G को बेहद पसंद किया जा रहा है।