spot_img
Homeमध्यप्रदेशShree Ram Wheat:गेहूँ की किस्म की विशेषता, उपजाऊ मिट्टी के साथ-साथ अच्छी...

Shree Ram Wheat:गेहूँ की किस्म की विशेषता, उपजाऊ मिट्टी के साथ-साथ अच्छी मिट्टी में मिलेगा बंपर उत्पादन, उन्नत किस्म के बारे में आप जानते हैं

Shree Ram Wheat:गेहूँ की किस्म की विशेषता, उपजाऊ मिट्टी के साथ-साथ अच्छी मिट्टी में मिलेगा बंपर उत्पादन, उन्नत किस्म के बारे में आप जानते हैं श्री राम सुपर 303 गेहूं की किस्म यह किस्म इतना उत्पादन देगी कि गेहूं घर पर नहीं मिलेगा श्री राम 303 गेहूं की किस्म इस किस्म की विशेषता यह है कि यह बंजर भूमि में भी 30 क्विंटल और 75-80 क्विंटल गेहूं में उपज देगी। अच्छी मिट्टी श्री राम 303 यह किस्म मध्य प्रदेश के किसानों के लिए विशेष रूप से विकसित की गई थी। इस किस्म के प्रयोग से किसान अच्छा मुनाफा कमाते हैं। मध्य प्रदेश के किसानों ने श्रीराम सुपर 252 और श्रीराम सुपर 303 गेहूं के बीज की उत्पादकता पर प्रसन्नता व्यक्त की है। तो आइए जानते हैं श्री राम 303 गेहूं की किस्म का विवरण, उत्पत्ति स्थान, उपज, फसल की परिपक्वता, अनाज की किस्म और अन्य जानकारी।

Shree Ram Wheat:गेहूँ की किस्म की विशेषता, उपजाऊ मिट्टी के साथ-साथ अच्छी मिट्टी में मिलेगा बंपर उत्पादन, उन्नत किस्म के बारे में आप जानते हैं
Shree Ram Wheat:गेहूँ की किस्म की विशेषता, उपजाऊ मिट्टी के साथ-साथ अच्छी मिट्टी में मिलेगा बंपर उत्पादन, उन्नत किस्म के बारे में आप जानते हैं

Shree Ram Wheat

श्री राम 303 गेहूं की किस्म इन क्षेत्रों के लिए उपयुक्त
श्री राम सुपर 252 और 303 गेहूं के बीज मध्य प्रदेश, पूर्वांचल, बिहार, उत्तराखंड और तराई क्षेत्रों में अपनी अनुकूलन क्षमता और उत्पादकता के कारण गेहूं उत्पादकों (श्री राम 303 गेहूं किस्म विवरण) की पहली पसंद बन गए हैं। श्री राम सुपर 303 गेहूं के बीज के शुभारंभ के बाद, इस गेहूं की लोकप्रियता बहुत बढ़ गई है और मध्य प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों के किसानों ने इन गेहूं की किस्मों (श्री राम 303 गेहूं की विविधता विवरण) को बहुत पसंद किया है।

श्री राम 303 गेहूं की किस्म के बारे में जानकारी
श्री राम 303 गेहूं की वैरायटी का विवरण कंपनी द्वारा राज्य में किसानों के लिए विकसित किया गया था। श्रीराम फार्म सॉल्यूशंस ने किसानों को फसल उत्पादकता बढ़ाने में मदद करने के लिए इन अभिनव उत्पादों को विकसित किया है।

श्री राम फर्टिलाइजर्स एंड केमिकल्स के विश्व प्रसिद्ध वैज्ञानिकों ने इन किस्मों को विकसित किया है (श्री राम 303 गेहूं किस्म विवरण)। इस गेहूं का दाना अन्य गेहूं की तुलना में अधिक समय तक रहता है। इसके पौधों में लौंग की संख्या अधिक होती है जिससे श्री राम 303 किस्म में अधिक उत्पादन मिलता है।

श्री राम सुपर 303 गेहूं की किस्म
श्री राम 303 की विशेषताएं – श्री राम सुपर 303 गेहूं किस्म (श्री राम 303 गेहूं किस्म का विवरण) कम समय में भरपूर उत्पादन देने के अलावा रोग सहिष्णु है।

पौधे में कान की अवधि – इस प्रकार के पौधे के लिए कान बुवाई के 70 से 80 दिनों के बाद आता है।

अनाज की किस्म – श्रीराम सुपर 303 गेहूँ की किस्म का दाना घना, चमकदार होता है और वजन अधिक होने के कारण इसका बाजार भाव भी अधिक होता है।

फसल परिपक्वता अवधि – यह गेहूँ 110 दिनों में पक कर तैयार हो जाता है।

उत्पादन क्षमता – पौधे में लौंग की मात्रा अधिक होने के कारण इसका उत्पादन (श्री राम 303 गेहूँ की किस्म विवरण) 75 क्विंटल प्रति हेक्टेयर तक होता है।

श्री राम किस्म के बारे में जानकारी 111
मध्य प्रदेश के किसानों के लिए श्री राम 111 गेहूं की किस्म श्री राम (श्री राम 303 गेहूं किस्म विवरण) विश्व प्रसिद्ध उर्वरक और रासायनिक वैज्ञानिकों द्वारा तैयार की गई है। इसका दाना सख्त और चमकदार होता है। श्री राम 111 जल्दी और देर से बुवाई दोनों के लिए उपयुक्त है। गेहूं की यह किस्म लगभग 105 दिनों में पक जाती है। गेहूं श्री राम सुपर 111 का उत्पादन 22 क्विंटल प्रति एकड़ है।

Shree Ram Wheat:गेहूँ की किस्म की विशेषता, उपजाऊ मिट्टी के साथ-साथ अच्छी मिट्टी में मिलेगा बंपर उत्पादन, उन्नत किस्म के बारे में आप जानते हैं

गेहूँ की अधिक उपज के लिए ऐसा करें
उप निदेशक किसान कल्याण एवं कृषि विकास ने बताया कि गेहूं की फसल में डीएपी की जगह (श्री राम 303 गेहूं किस्म विवरण) विभिन्न उर्वरकों के विकल्प हैं। किसान भाई गेहूं में डीएपी की जगह एनपीके 12:32:16 और सिंगल सुपर फॉस्फेट जैसे अन्य उर्वरकों का उपयोग कर सकते हैं। अनुशंसित तत्वों की आपूर्ति के लिए गेहूं में विभिन्न रासायनिक उर्वरक विकल्प भी उपलब्ध हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular