लोकसभा चुनाव में जिस Hyderabad सीट पर कड़ी टक्कर, वहां Phalodi Satta Bazar का क्या है अनुमान 

एआईएमआईएम के असदुद्दीन ओवैसी और भाजपा की माधवी लता हैं आमने सामने 

Phalodi Satta Bazar | Hyderabad  – लोकसभा चुनाव 2024 के चौथे चरण में 13 मई को 10 राज्यों की 96 सीटों पर मतदान संपन्न हुआ। हैदराबाद में एआईएमआईएम के असदुद्दीन ओवैसी और भाजपा की माधवी लता के बीच कड़ी टक्कर देखने को मिल रही है। राजस्थान के फलोदी सट्टा बाजार ने हैदराबाद सीट को लेकर अपनी भविष्यवाणी जारी की है।
विवादों में भाजपा उम्मीदवार माधवी लता

भाजपा उम्मीदवार माधवी लता मतदान के दौरान मुस्लिम मतदाताओं से नकाब हटवाकर उनकी पहचान की जांच करने के मामले में विवादों में घिर गई हैं। इस घटना के संबंध में उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज हो चुकी है।

चौथे चरण का मतदान | Phalodi Satta Bazar | Hyderabad  

अब चौथे चरण में 10 राज्यों की 96 सीटों पर 1,717 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला हुआ है, जिसमें तेलंगाना की 17 सीटें भी शामिल हैं। सभी की नजरें हैदराबाद सीट पर टिकी हैं, जो असदुद्दीन ओवैसी के परिवार का गढ़ मानी जाती है। पिछले 40 साल से इस सीट पर ओवैसी परिवार का ही कब्जा रहा है। 1984 से 1999 तक असदुद्दीन ओवैसी के पिता सुल्तान सलाहुद्दीन ओवैसी सांसद रहे, और 2004 से अब तक यह सीट असदुद्दीन ओवैसी के पास है।

ये प्रत्याशी आमने सामने 

साल 2024 के चुनाव में हैदराबाद सीट से असदुद्दीन ओवैसी अपनी पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के टिकट पर पांचवीं बार उम्मीदवार हैं। पतंग चुनाव चिह्न वाली एआईएमआईएम के ओवैसी के अलावा भाजपा की कोम्‍पेला माधवी लता, बीआरएस के गद्दाम श्रीनिवास यादव, कांग्रेस के मोहम्मद वलीउल्लाह समीर और एआईएमईपी की नौहेरा शेख भी मैदान में हैं।

क्या अनुमान है फलोदी सट्टा बाजार का | Phalodi Satta Bazar | Hyderabad   

चुनावों में अपने सटीक अनुमानों के लिए मशहूर राजस्थान के फलोदी सट्टा बाजार का मानना है कि इस बार हैदराबाद सीट पर भाजपा की माधवी लता जीत सकती हैं। हालांकि, ओवैसी के गढ़ हैदराबाद में उन्हें हराना बहुत मुश्किल है। माधवी लता हिंदुत्व के चेहरे के बल पर चुनाव लड़ रही हैं, जबकि उनका कोई राजनीतिक पृष्ठभूमि नहीं है। दूसरी ओर, असदुद्दीन ओवैसी का परिवार पिछले 40 साल से हैदराबाद का प्रतिनिधित्व करता आ रहा है। हैदराबाद के 60 फीसदी से अधिक मतदाता मुस्लिम हैं, जो ओवैसी की जीत का मुख्य आधार बनते हैं। माधवी लता अपनी जीत का कारण क्या मानती हैं?

Source Internet