Wednesday, August 17, 2022
spot_img
HomeबैतूलLeopard : तेंदुए की दस्तक से दहशत, सारनी के एबी टाइप में...

Leopard : तेंदुए की दस्तक से दहशत, सारनी के एबी टाइप में मिली लोकेशन

एबीटाइप एरिया में तेंदुए की दस्तक से दहशत

सारनी(हेमंत रघुवंशी) – विद्युत नगरी सारनी के एबीटाइप में एक बार फिर जंगली जानवर के आ जाने से झुग्गी बस्ती में रहने वाले लोगों में दहशत का माहौल बना हुआ है। झुग्गी बस्ती में रहने वाले लोगों के हिसाब से बाघ और तेंदुआ का होना  बताया जा रहा है। जबकि वन विभाग के कर्मचारियों की मानें तो इस क्षेत्र में तेंदुआ देखा गया है लेकिन बाघ की लोकेशन इस क्षेत्र में नहीं है। दो दिन पूर्व एक बैल पर जंगली जानवर ने हमला किया था जिसकी वजह से एक बार फिर इस क्षेत्र मे जंगली जानवर के होने की पुष्टि को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है।

तेंदुए की बढ़ रही संख्या

वन विभाग के जिम्मेदार अधिकारियों का कहना है कि बाघ की लोकेशन अभी तक इस एरिया में नहीं है। एबी टाईप क्षेत्र में तेंदुआ की संख्या में इजाफा हुआ है। इस वजह से तेंदुआ लगातार कालोनियों में पहुंच रहे हैं। वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि एबीटाइप की झुग्गी बस्ती क्षेत्र में चार से पांच बार तेंदुए की लोकेशन और तेंदुए को देखा गया है।

वन विभाग ने मुनादी कराने के निर्देश

वन विभाग के कर्मचारियों को नियमित इस स्थान पर भेजकर मुनादी कराने के अलावा सुरक्षा व्यवस्था के साथ झुग्गी बस्ती के लोगों को रहने की हिदायत दी गई है। साथ ही यह भी हिदायत दी गई है जैसे छोटे जानवर कुत्ता बकरा बकरी घर के सामने ना बांधे सुरक्षित स्थान पर बांधे क्योंकि तेंदुआ को सबसे ज्यादा प्रिय कुत्ता और छोटे जानवर होते हैं एक बार फिर क्षेत्र में जंगली जानवर के आने के बाद बहस का मुद्दा छीड़ गया है कि यह बाघ है या तेंदुआ।

इनका कहना…

उत्तरवन परीक्षेत्र में बाघ का लोकेशन नहीं है। एबी टाइप की झुग्गी बस्ती एरिया में तेंदुआ का लोकेशन कई बार मिली है। झुग्गी बस्ती के लोगों को हिदायत दी गई है और पालतू जानवर कुत्ते को बांधकर रखने की सलाह दी गई है। इसके अलावा वन विभाग के कर्मचारी लगातार इस एरिया में नजर रखे हुए हैं।

विजय मौर्य, एसडीओ, उत्तर वन परीक्षेत्र, सारनी

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments