HometrendingHemant Wagadre Ki Warning - डंपर, टैक्टर, मजदूर सड़क पर उतर कर...

Hemant Wagadre Ki Warning – डंपर, टैक्टर, मजदूर सड़क पर उतर कर शहर को जाम कर देंगे तब प्रशासन विकल्प देगा

बैतूल – Hemant Wagadre Ki Warning – वर्तमान में चल रहे रेत के संकट और उस पर सत्ता पक्ष के जनप्रतिनिधि सहित प्रशासन के रवैए पर कांग्रेस नेताओं ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि क्या डंपर, टेक्टर और मजदूर तबका शहर की सड़कों पर उतर कर जाम लगाएगा तब कोई कदम  उठाएंगे।

कांग्रेस के कार्यवाहक जिला अध्यक्ष हेमंत वागद्रे(Hemant Wagadre Ki Warning) का कहना है कि दो बार कांग्रेस मूल समस्या से अवगत कराने के लिए प्रदर्शन कर चुकी है और फिर भी प्रशासन कोई विकल्प देने को तैयार नही है। यदि यही तरीका है और जनता के हित की अनदेखी करने की मानसिकता है तो फिर अब डंपर, टैक्टर और मजदूरों के साथ बैतूल शहर की सड़क पर उतर कर हर तरह से सड़को को जाम कर दिया जाएगा, जिसकी पूरी जबावदारी प्रशासन की होगी।

Hemant Wagadre Ki Warning – डंपर, टैक्टर, मजदूर सड़क पर उतर कर शहर को जाम कर देंगे तब प्रशासन विकल्प देगा

इधर उनकी बात का समर्थन करते हुए डंपर संघ के अध्यक्ष और नपा में नेता प्रतिपक्ष राजकुमार दीवान का कहना है कि रेत संकट में डंपर टेक्टर के रोजगार करने वालो की भी हालत खराब है और वे बैंक किस्त तक जमा नही कर पा रहे। अब ऐसे हम लोग अपने डंपर शहर मुख्य सड़कों पर खड़े कर चाबी प्रशासन को दे देंगे ।

कांग्रेस के अन्य नेता अरुण गोठी, नवनीत मालवीय, समीर खान, राजा सोनी, मंगू सोनी, राजेश गावड़े, प्रतीक सोनी, नफीस खान  आदि का कहना है कि प्रशासन सत्ता पक्ष को उपकृत करने के लिए ही डंप के टेंडर में भी लेट लतीफी कर रहा जिस से की भाजपा के जनप्रतिनिधि क्राइसेस के मौके पर आपदा में अवसर तलाश कर ले। यह जनता से जुडा  मसला है और जनता के हित के लिए शहर की मुख्य सड़कों को डंप करने से भी कांग्रेस पीछे नहीं हटेगी।

यदि विकल्प नही दिया गया, डंप पर जल्द फैसला नही लिया गया तो जो होगा उसकी जबावदारी प्रशासन की होगी। कांग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष सहित सभी नेताओं ने कहा की आखिर क्या कारण है कि खनिज अधिकारी मौन है जबकि उन्होंने ही ठेकेदार को कोर्ट जाने का मौका देकर आम जनता को रेत संकट में धकेला है, क्यों उस को हटवाया नही जा रहा।

RELATED ARTICLES

Most Popular