Homeधर्म एवं ज्योतिषGovardhan Puja:गोवर्धन पूजा 2022 शुभ मुहूर्त गोवर्धन पूजा की अवधि केवल 2...

Govardhan Puja:गोवर्धन पूजा 2022 शुभ मुहूर्त गोवर्धन पूजा की अवधि केवल 2 घंटे 14 मिनट, जानिए समय, विधि और पौराणिक कथा

Govardhan Puja:गोवर्धन पूजा 2022 शुभ मुहूर्त गोवर्धन पूजा की अवधि केवल 2 घंटे 14 मिनट, जानिए समय, विधि और पौराणिक कथा गोवर्धन पूजा 2022 सूर्य ग्रहण के कारण दीपावली के अगले दिन गोवर्धन पूजा नहीं की गई. ऐसे में 26 अक्टूबर को सेवा का शुभ मुहूर्त 2 बजे के करीब ही रहेगा. जानिए कब है गोवर्धन पूजा का सही समय।

Govardhan Puja:गोवर्धन पूजा 2022 शुभ मुहूर्त गोवर्धन पूजा की अवधि केवल 2 घंटे 14 मिनट, जानिए समय, विधि और पौराणिक कथा
Govardhan Puja:गोवर्धन पूजा 2022 शुभ मुहूर्त गोवर्धन पूजा की अवधि केवल 2 घंटे 14 मिनट, जानिए समय, विधि और पौराणिक कथा

Govardhan Puja

गोवर्धन पूजा 2022 शुभ मुहूर्त: वैसे तो गोवर्धन पूजा दीपावली के अगले दिन की जाती है, लेकिन इस साल सूर्य ग्रहण के कारण अगले दिन यानी 26 अक्टूबर, बुधवार को गोवर्धन या अन्नकूट मनाया जाता है. गोवर्धन पूजा के दिन, भगवान कृष्ण को 56 या 108 प्रकार के भोग अर्पित किए जाते हैं और गोवर्धन पर्वत की पूजा की जाती है।

गोवर्धन पूजा कार्तिक मास की प्रतिपदा शुक्ल पक्ष को की जाती है। इसका मतलब है कि यह 25 अक्टूबर को होने वाला था, लेकिन सूर्य ग्रहण के कारण तिथियों को आगे बढ़ा दिया गया। ऐसे में गोवर्धन पूजा और भाई दूज एक ही दिन मनाया जाता है।

जानिए गोवर्धन पूजा का शुभ मुहूर्त
सुबह का मुहूर्त: 06:29 से 08:43
प्रतिपदा तिथि प्रारंभ: 25 अक्टूबर शाम 4:18 बजे
प्रतिपदा तिथि समाप्त: 26 अक्टूबर दोपहर 2:42 बजे

गोवर्धन पूजा की विधि क्या है?
हिंदू धर्म में गोवर्धन पूजा का बहुत महत्व है। सबसे पहले घर के आंगन में गोवर्धन की गोबर से मूर्ति बनाई जाती है। उसके बाद भगवान गोवर्धन की पूजा की जाती है। इस पूजा में अक्षत, रोली, जल, दूध, बतासे, पान और केसरी के फूलों का उपयोग किया जाता है। गोवर्धन की प्रतिमा के पास दीप जलाकर भगवान का स्मरण किया जाता है। ऐसी मान्यता है कि इस दिन यदि विधि विधान से भगवान गोवर्धन की पूजा की जाए तो श्रीकृष्ण अपने भक्तों पर वर्ष भर कृपा बरसाते रहते हैं।

Read more Diwali Party: दिवाली पार्टी में कैटरीना कैफ के ट्रेडिशनल लुक ने मचाया तहलका, कातिलाना लुक देखकर दीवाने हो गए फैंस

Govardhan Puja:गोवर्धन पूजा 2022 शुभ मुहूर्त गोवर्धन पूजा की अवधि केवल 2 घंटे 14 मिनट, जानिए समय, विधि और पौराणिक कथा

गोवर्धन पूजा के पीछे की कहानी
ऐसा माना जाता है कि जब ब्रज लोगों की रक्षा के लिए भगवान इंद्र का क्रोध तेज हो गया, तो भगवान कृष्ण ने विशाल पर्वत गोवर्धन को अपनी छोटी उंगली से उठा लिया ताकि हजारों जीव और लोग उसके नीचे शरण ले सकें। इंद्र के अभिमान को कुचलने के लिए, भगवान ने अपनी दिव्य लीलाओं का प्रदर्शन किया और गोवर्धन पर्वत की पूजा भी की। तब से हर साल इस दिन लोग अपने घरों में गोवर्धन करते हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular