Friday, August 12, 2022
spot_img
HomeबैतूलDowry : शिक्षक दूल्हे ने दहेज में मांगी कार,नही मिलने पर नही...

Dowry : शिक्षक दूल्हे ने दहेज में मांगी कार,नही मिलने पर नही ले गया बारात,मामला दर्ज

मुलताई -एक शिक्षक ने अपना फलदान होने के बाद ससुराल वालो से दहेज में फोर व्हीलर की मांग कर डाली । कार नही मिलने पर बारात नही ले गए और तोड़ दी शादी।लड़की पक्ष ने पुलिस में शिकायत की है ।

शिक्षक दूल्हा और उसके परिजनों का कहना था कि उन्हें 50 लाख रुपए नगद देने वाले परिवार भी मिल रहे थे, ऐसे में यदि शादी करना है तो पहले फोर व्हीलर गाड़ी तो देना ही होगा। इतना ही नहीं दहेज में फोर व्हीलर गाड़ी नहीं मिलने पर दूल्हा बरात लेकर नहीं पहुंचा ।

इधर लड़की वालों ने कार्ड बांट कर रिश्तेदारों को निमंत्रण दे दिया था बरात नहीं आने से दुल्हन सहित पूरा परिवार मानसिक प्रताड़ना के दौर से गुजर रहा है । 3 मई को दोनों का विवाह होना था, लेकिन बारात ही नहीं पहुंची।

मामला मुलताई क्षेत्र की ग्राम महतपुर का है,जहां शिक्षक सहित उसके पिता और माम के खिलाफ अब एफआईआर हो चुकी है। ग्राम महतपुर निवासी किसान पप्पू पुत्र धीरजसिंह रघुवंशी ने पुलिस को सौंपी शिकायत में बताया कि उनकी पुत्री का विवाह ग्राम महतपुर निवासी शिक्षक धर्मेंद्र पुत्र इंदलसिंह के साथ तय हुआ था।

समाज बंधुओं की उपस्थिति में बीते 13 फरवरी को फलदान का कार्यक्रम संपन्न हुआ। साथ ही विवाह की तिथि 3 मई 2022 तय हुई थी। फलदान होने के 15 दिन बाद धर्मेंद्रसिंह और उसके मामा विजयसिंह रघुवंशी ने दहेज में फोर व्हीलर गाड़ी की मांग रखी। साथ ही कहा कि मांग पूरी होंगी तब ही धर्मेंद्र की शादी होगी। हमें 50 लाख रुपए देने वाले परिवार भी मिल रहे हैं।

पप्पू रघुवंशी ने आवेदन में बताया धर्मेंद्रसिंह उसके पिता इंदलसिंह और विजयसिंह फोर व्हीलर देने की मांग पर अड़े रहे। कहने लगे कि 3 मई को बारात लेकर नहीं आएंगे। जबकि पुत्री के विवाह के निमंत्रण पत्र रिश्तेदारों सहित अन्य जान पहचान वालों में वितरित हो चुके थे। उसके बावजूद तीनों ने मेरी पुत्री का तय विवाह तोड़ दिया। जिससे पुत्री सहित परिवार की बदनामी हो गई और पुत्री की मानसिक स्थिति भी बिगड़ गई है।

पप्पू रघुवंशी की शिकायत पर महिला पुलिस थाना में आरोपी धर्मेंद् सिंह पुत्र इंदलसिंह,उसके पिता इंदलसिंह दोनों निवासी ग्राम महतपुर और धर्मेंद्र के मामा आरोपी विजयसिंह पुत्र टाटरू पटेल निवासी ग्राम मोरखा के खिलाफ दहेज प्रतिषेध अधिनियम 1961 की धारा 3 और 4 के साथ भादवि धारा 34 के तहत केस दर्ज किया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments