CM Mohan Yadav | आजादी के बाद कांग्रेस को मिटाना था कलंक | सीएम

मुख्यमंत्री ने करवाया दुर्गादास उइके का नामांकन दाखिल

CM Mohan Yadavबैतूलएक ऋषि थे जो कि कई कार्य कर चुके थे लेकिन जब उनके मन में अध्यात्म जागा तो उन्होंने अन्य ऋषियों से गुरुमंत्र मांगा। ऋषियों ने उन्हें सिर्फ एक मंत्र दिया कि आप राम-राम बोलो। चूंकि मंत्र लेने वाले ऋषि ने अन्य ऐसे कार्य किए थे कि उन्हें राम-राम शब्द याद ही नहीं रहा और वो मरा-मरा शब्द बोलने लगे। लेकिन इसका भी उच्चारण राम-राम ही हुआ। आज सभी कांग्रेसी भी मरा-मरा ही बोल रहे हैं। उक्त उद्गार दुर्गादास उइके का नामांकन दाखिल करवाने के लिए बैतूल पहुंचे मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने व्यक्त किए।

डॉ. मोहन यादव ने आगे कहा कि कांग्रेस चाहती तो राममंदिर मुद्दे को 70 साल पहले हल कर सकती थी। लेकिन कांग्रेस ने इसे कलंक मानकर जिंदा रखा और हिन्दु-मुसलमानों के बीच झगड़ा कराने का कार्य किया। उन्होंने आगे कहा कि जिस राम सेतू को नासा ने भी मानवनिर्मित माना है उन्हीं भगवान श्रीराम के अस्तित्व पर कांगे्रसी हमेशा सवाल उठाते रहे। लेकिन जब देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में श्रीराम मंदिर का निर्माण और प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम हुआ तो इसमें ना सिर्फ हिन्दु बल्कि मुस्लिमों ने भी बढ़चढ़चकर सहयोग दिया। दोनों सम्प्रदाय के बीच किसी भी प्रकार का कोई भी भेदभाव नहीं है।

भारत दुनिया का सबसे बड़ी आबादीऔर लोकतंत्र वाला देश है। हम विश्व की सबसेबड़ी पार्टी के सिपाही है। दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र को सबसे मजबूत हाथ में देना चाहिए जिसकी 56 इंच की छाती है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ही ऐसे नेता है और मोदी है तो मुमकिन है। श्री यादव के भाषण के पश्चात कांग्रेस जिलाध्यक्ष सुनील शर्मा और पूर्व विधायक सुनीता बेले मंच पर पहुंचे जहां मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने इन दोनों नेताओं का स्वागत किया। कार्यक्रम का शुभारंभ भाजपा प्रत्याशी डीडी उइके ने स्वागत भाषण से हुआ था।

मुख्यमंत्री ने कराया नामांकन दाखिल | CM Mohan Yadav

बैतूल-हरदा-हरसूद लोकसभा सीट के भाजपा प्रत्याशी दुर्गादास उइके का नामांकन दाखिल कराने के लिए मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव बैतूल पहुंचे और निर्वाचन कार्यालय पहुंचकर उन्होंने श्री उइके का नामांकन दाखिल कराया। इस दौरान उनके साथ केबीनेट मंत्री विजय शाह, बैतूल विधायक एवं लोकसभा चुनाव समिति के प्रदेश संयोजक हेमंत खण्डेलवाल, पूर्व मंत्री कमल पटेल भी उपस्थित थे।

हेमंत खण्डेलवाल के निवास पर पहुंचे सीएम

लोकसभा चुनाव मेें महत्वपूर्ण जिम्मेदारी मिलने के कारण बैतूल विधायक हेमंत खण्डेलवाल इन दिनों भोपाल में लोकसभा चुनाव समिति के कार्यों का निर्वहन कर रहे हैं। आज श्री खण्डेलवाल मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव के साथ हेलीकाप्टर से भोपाल से बैतूल आए। हेलीपेड़ से डॉ. यादव श्री खण्डेलवाल के निवास पर पहुंचे, यहां पर कुछ देर रूकने के बाद मुख्यमंत्री कलेक्ट्रेट के लिए रवाना हुए।

कार्यक्रम में यह थे मौजूद | CM Mohan Yadav

लाल बहादुर शास्त्री स्टेडियम में आयोजित सभा में केबीनेट मंत्री विजय शाह, पूर्व मंत्री कमल पटेल, संगठन प्रभारी पंकज जोशी, भाजपा जिलाध्यक्ष आदित्य बबला शुक्ला, विधायकगणों में हेमंत खण्डेलवाल, चंद्रशेखर देशमुख, महेंद्र सिंह चौहान, श्रीमती गंगाबाई उइके, डॉ. योगेश पंडाग्रे, जिपं अध्यक्ष राजा पवार, पूर्व विधायक अलकेश आर्य, पूर्व सांसद ज्योति धुर्वे, हरदा जिलाध्यक्ष राजेश वर्मा एवं खास तौर पर हाल ही भाजपा में शामिल हुए रिटायर्ड डीआईजी सुधीर वी लॉड, जिपं सदस्य राजा ठाकुर, मंडल अध्यक्ष गंज विकास मिश्रा, कोठीबाजार मंडल अध्यक्ष विक्रम वैद्य, कपिल वर्मा, नागरिक बैंक के अध्यक्ष अतीत पवार, पूर्व पार्षद कैलाश बंडू धोटे, कमलेश सिंह, रंजीत सिंह, सुधाकर पंवार, मंगल सिंह सहित अन्य नेता मंच पर मौजूद थे। सभा को सुनने के लिए आए हजारों की संख्या में कार्यकर्ता और नागरिक कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे थे। कार्यक्रम का संचालन पूर्व नप अध्यक्ष सुधाकर पंवार ने किया।

2 thoughts on “CM Mohan Yadav | आजादी के बाद कांग्रेस को मिटाना था कलंक | सीएम”

Comments are closed.