HometrendingCAA Law - लोस चुनाव के पहले लागू होगा सीएए

CAA Law – लोस चुनाव के पहले लागू होगा सीएए

गृहमंत्री अमित शाह ने किया ऐलान

CAA Law नई दिल्ली – सीएए लागू करने वाला उत्तराखंड देश का पहला राज्य बन गया है। अब इसे समूचे देश में लोकसभा चुनाव के पहले लागू करने की लगभग तैयारी पूर्ण कर ली गई है। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ऐलान किया है कि लोकसभा चुनाव के पहले सीएए लागू कर दिया जाएगा। श्री शाह ने यह भी कहा कि विपक्ष मुसलमानों को गुमराह करने की कोशिश करते हुए उन्हें भडक़ाया जा रहा है। उन्होंने यह भी कहा है कि लोकसभा चुनाव से पहले पूरे देश में नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) लागू हो जाएगा।

केंद्रीय गृह मंत्री ने एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि मैं स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि सीएए किसी भी व्यक्ति की नागरिकता नहीं छीनेगा। इसका उद्देश्य केवल धार्मिक उत्पीडऩ का सामना कर रहे पाकिस्तानी, अफगानिस्तानी और बांग्लादेशी अल्पसंख्यकों को नागरिकता देना है।

अमित शाह ने कहा कि यह भी कांग्रेस का वादा है। उन्होंने कहा, जब देश का विभाजन हुआ और वहां पर अल्पसंख्यकों को प्रताडि़त किया जाता था। उस दौरान वह सभी भारत में भाग कर आना चाहते थे, तब कांग्रेस ने कहा था कि आप यहां आइए, आपको यहां नागरिकता दी जाएगी।

इन्हें मिलेगी नागरिकता | CAA Law

नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा पेश किए गए सीएए का उद्देश्य हिंदू, सिख, जैन, बौद्ध, पारसी और ईसाइयों सहित सताए गए गैर-मुस्लिम प्रवासियों को भारतीय नागरिकता प्रदान करना है, जो 31 दिसंबर, 2014 से पहले बांग्लादेश, पाकिस्तान और अफगानिस्तान से भारत आए हैं। दिसंबर 2019 में संसद द्वारा सीएए के पारित होने और उसके बाद राष्ट्रपति की मंजूरी के बाद, देश के विभिन्न हिस्सों में महत्वपूर्ण विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए। आगामी लोकसभा चुनाव के बारे में बोलते हुए गृह मंत्री ने कहा कि यह चुनाव विकास के खिलाफ भ्रष्टाचार के बारे में है। उन्होंने कहा कि यह चुनाव भारत बनाम एनडीए के बारे में नहीं है। यह भ्रष्ट शासन बनाम भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टॉलरेंस के बारे में है। यह चुनाव उन लोगों के बारे में है, जो राष्ट्रीय सुरक्षा सुरक्षित करना चाहते हैं बनाम उनके बारे में जो विदेश नीति के नाम पर राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे में डालते हैं। साभार

RELATED ARTICLES

Most Popular