Saturday, August 13, 2022
spot_img
Homeमध्यप्रदेशStrange : पागल कुत्ते ने भैंस को काटा हुई मौत, उसी के...

Strange : पागल कुत्ते ने भैंस को काटा हुई मौत, उसी के दूध से बना रायता भोज मे परोसा गया, 500 लोगो की हलक मे अटकी

ग्वालियर – मध्यप्रदेश के ग्वालियर में सामूहिक भोज में रायता पीने के बाद 500 लोगों की जान हलक में अटक गई। सुनने में यह आपको अटपटा लग सकता है, लेकिन यह सच है। मामला डबरा के चांदपुर गांव का है। जहां 2 दिन पहले तेरहवीं भोज में करीब 700 लोगों ने रायता पिया था।

जिस भैंस के दूध (मट्ठा) से रायता तैयार किया गया था, उस भैंस की मौत कुत्ते के काटने से हो गई। इसके बाद बछड़े की भी मौत हो गई। जैसे ही लोगों को इसकी जानकारी लगी, वो दहशत में आ गए और 500 लोग एंटी रेबीज इंजेक्शन लगवाने के लिए जिला अस्पताल पहुंच गए। हालात ये थे कि लोगों को लंबी लाइन लगानी पड़ी।

चांदपुर गांव में तेरहवीं का कार्यक्रम था। इसमें दतिया ज़िले के पाली गांव से मंगाए गए मट्ठा से रायता बनाया गया था। भोज में करीब 700 लोगों को रायता परोसा गया था। भोज होने के बाद सूचना मिली कि जिस भैंस के दूध से मट्ठा और फिर रायता बना है उसकी मौत हो गई है।

ग्रामीणों में कुत्ते के काटने से भैंस की मौत की खबर के बाद हड़कंप मच गया। 500 से अधिक ग्रामीण सिविल अस्पताल डबरा पहुंचे। एंटी रेबीज इंजेक्शन लगवाने की होड़ में लाइन लगाकर खड़े हो गए हैं। कई को इंजेक्शन लगा तो कई रह गए।

चांदपुर गांव सिंध नदी के किनारे बसा है। नदी की दूसरी ओर पाली गांव है जो दतिया जिले की सीमा में आता है। चांदपुर गांव में तेरहवीं में रायता बनाने के लिए मट्ठा पाली गांव से आया था। पाली गांव की जिस भैंस के दूध से यह मट्ठा बना उसे 2 दिन पहले गांव के ही एक पागल कुत्ते ने काट लिया था। जब गमी का कार्यक्रम चल रहा था तभी भैंस के मुंह से झाग निकलने लगा और उसकी मौत हो गई। थोड़ी देर बाद उसके बछड़े की भी मौत हो गई। यह जानकारी तुरंत पाली गांव के लोगों ने चांदपुर गांव के लोगों को दी।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments