Saanp Khati Hai Bakri – पाकिस्तान की राष्ट्रीय पशु जो खा जाती है Saanp 

जाने इस नस्ल की बकरी के बारे में सब कुछ 

Saanp Khati Hai Bakriदुनिया में भर में अलग अलग नस्ल और प्रजाति के जानवर पाए जाते हैं जिनकी अपनी अपनी अलग खासियत होती हैं। जैसे की किसी जानवर का खान पान शुद्ध शाकाहारी यानि पेड़ पौधे और पत्तियां हैं तो  वहीं कुछ जानवरों का भोजन मांसाहारी होता है। अगर हम बात करें भारत देश की तो हमारे यहाँ का राष्ट्रीय पशु टाइगर है ठीक उसी तरह भारत के पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान की राष्ट्रीय पशु एक बकरी है , लेकिन ये बकरी की एक ऐसी नस्ल है जो की अपने आप में खास है। दरअसल ये मार्खोर जंगली बकरी है, जो हिमालयन इलाकों में पाई जाती है। इस पशु की एक बात जो सबसे हैरान करने वाली है वो ये है की ये ऐसा पशु है जो सांप का दुश्मन नंबर एक है. उन्हें खोजता है और मारकर चबा लेता है। 

नाम का ही अर्थ है सांप खाने वाला | Saanp Khati Hai Bakri

मार्खोर एक फ़ारसी शब्द है जिसका अर्थ होता “सांप खाने वाला” या “सांप-हत्यारा.” लोककथाएं कहती हैं कि ये जानवर कथित तौर पर अपने सर्पिल सींगों से सांपों को मारने और फिर सांपों को खा जाने में सक्षम है. लोग ये भी मानते हैं कि यह सर्पदंश से जहर निकालने में मदद करता है. हालांकि मार्खोर द्वारा सांपों को खाने या उन्हें सींगों से मारने का कोई प्रमाण नहीं है. लेकिन एक सच्चाई जरूर है। 

इस तरह सांप को मारता है  

मार्खोर जहां भी सांप को देख लेता है, उन्हें अपने शक्तिशाली खुरों से मार देता है. कई बार सांप को मारने के लिए अपनी घुमावदार मजबूत सींगों का भी इस्तेमाल करता है. माना जाता है कि जहां मार्खोर रहते हैं, वहां सांप नजर नहीं आते। 

पहाड़ों पर होता है बसेरा | Saanp Khati Hai Bakri 

उत्तरी भारत, पाकिस्तान, अफगानिस्तान से लेकर तुर्किस्तान तक मार्खोर 2,000 से 11,800 फीट की ऊंचाई तक के पहाड़ों में रहते हैं. वे आम तौर पर झाड़ियों वाले जंगलों में रहते हैं. मुख्य तौर पर वो शाकाहारी ही होते हैं लेकिन लड़ाकू होते हैं. आपस में ये तब खूब लड़ते हैं जब ग्नुप की मादा पर इन्हें अधिकार जमाना होता है.

Source – Internet