Political News | न्याय यात्रा में राहुल ने की कमलनाथ की उपेक्षा

भाजपा में शामिल होने की भी खूब चली थी चर्चा

Political Newsबैतूलजिस तरह से देश के विभिन्न क्षेत्रों और प्रदेशों के कांग्रेस के बड़े-बड़े नेता पार्टी छोडक़र भाजपा में शामिल हो रहे हैं उससे लगता है कि पार्टी में सबकुछ ठीक नहीं है। कांग्रेस पार्टी अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही है। गुटबाजी, एक-दूसरे के प्रति अविश्वास, विभिन्न स्तरों पर मतभेद, राष्ट्रीय स्तर से लेकर ग्रामीण स्तर तक कांग्रेस संगठन में निष्क्रियता और पदों पर आसीन होने की ललक के चलते कांग्रेस गर्त में पहुंच रही है। कांग्रेस के युवराज राहुल गांधी प्रदेशों के नेताओं के विवाद को लेकर भी तब कार्यवाही करने की बात करते हैं जब तक देर हो चुकी होती है और या तो उस राज्य की सत्ता चली जाती है या फिर विधायकों की बड़ी संख्या में टूट हो जाती है।

कमलनाथ के बड़बोले पन से गई सत्ता | Political News

2020 में मध्यप्रदेश के लगभग 25 विधायकों के कांग्रेस छोडऩे और कमलनाथ के बड़बोले पन और चलो-चलो के चलते प्रदेश से 15 साल बाद मिली सत्ता छिन गई थी। वहीं 2023 के विधानसभा चुनाव में भी इसी बड़बोले पन और अति आत्मविश्वास के चलते कमलनाथ के हाथ से सत्ता आते-आते छिन गई थी और 2024 के फरवरी में कमलनाथ के भाजपा में शामिल होने की अफवाह के चलते कांग्रेस के हाईकमान का कमलनाथ पर भरोसा उठ गया ऐसा राजनैतिक समीक्षकों का मानना है और ऐसी ही स्थिति गत दिवस मुरैना में भारत जोड़ो न्याय यात्रा के पहुंचने पर आयोजित आमसभा में देखने को मिली।

राहुल गांधी ने की कमलनाथ की उपेक्षा

राहुल गांधी की यात्रा जब राजस्थान के धौलपुर से मध्यप्रदेश के मुरैना पहुंची तब मुरैना में आमसभा का आयोजन किया गया था जिसमें मंच पर प्रदेश के दिग्गज नेताओं में कमलनाथ, दिग्विजय सिंह, जीतू पटवारी, उमंग सिंघार, भंवर जितेंद्र सिंह के अलावा राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं अन्य नेता बैठे दिखाई दिए। लेकिन कमलनाथ की कुर्सी राहुल गांधी की कुर्सी से तीन कुर्सी दूर लगी और जब राहुल गांधी भाषण देने उठे तो उन्होंने अपने संबोधन में नेताओं के नाम के क्रम में कमलनाथ का नाम 8 वें नंबर पर लिया। इसी तरह से जब कमलनाथ देने उठे और राहुल गांधी के सामने से निकले तो राहुल गांधी सिर नीचा कर मोबाइल पर कुछ देखते रहे। इसे राजनैतिक क्षेत्रों में राहुल गांधी द्वारा कमलनाथ से नाराजगी या इस वरिष्ठ नेता की उपेक्षा मान रहे हैं।

कमलनाथ को भाजपा की सलाह | Political News

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा प्रदेश की 29 में से 10 से 12 सीटें कांग्रेस की आने के दावे पर भाजपा के फायर ब्रांड नेता और अपने बयानों से चर्चित रहने वाले भोपाल के विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा कि कमलनाथ जी जो 10 सीटें बोल रहे हैं उसमें आगे का एक खत्म हो जाएगा और कांग्रेस जीरो पर आ जाएगी और मैं परात्मा से यही प्रार्थना करुंगा कि कमलनाथ जी इस उम्र में चुनाव हारने का झटका ना खाएं।

2 thoughts on “Political News | न्याय यात्रा में राहुल ने की कमलनाथ की उपेक्षा”

Comments are closed.