National Highway : नेशनल हाईवे के नीचे था पानी का लीकेज

फोर लेन सड़क खोदकर किया गया मरम्मत का कार्य, बंसल कम्पनी की लापरवाही हुई उजागर

National Highwayबैतूलशहरवासियों को पिछले 6 दिन से जल संकट झेलना पड़ रहा है और इसके लिए फोरलेन निर्माण करने वाली बंसल कम्पनी की लापरवाही सामने आई है। फोरलेन निर्माण के दौरान नगरपालिका की पाईप लाईन को किनारे पर शिफ्ट करना था जो कि प्रोजेक्ट में भी शामिल था, लेकिन बंसल कम्पनी ने पाईप लाईन शिफ्ट किए बिना ही फोरलेन सड़क बना दी। नगरपालिका को भी तब पता चला जब पाईप लाईन के लीकेज को तलाश किया जा रहा था तो यही लीकेज सड़क के नीचे मिला और फोरलेन सड़क खोदकर मरम्मत कार्य किया गया।

बसंल कम्पनी की लापरवाही आई सामने | National Highway

नगरपालिका सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक फोर लेन सड़क निर्माण के दौरान पाईप लाईन सड़क के नीचे से आ रही थी जिसे सड़क के बाजू में शिफ्ट करना था, यह कार्य एनएचएआई के प्रोजेक्ट में भी शामिल था। बताया जा रहा है कि सड़क निर्माण कम्पनी ने पाईप लाईन शिफ्ट किए बिना ही उसके ऊपर सड़क बना दी। दूसरीलापरवाही उस समय सामने आई जब हाईटेंशन लाईन को निर्माण कम्पनी अंडरग्राउंड कर रही थी और ड्रिल करने के दौरान नगरपालिका की पाईप लाईन फूट गई। कम्पनी पर आरोप यह है कि जब उन्हें मालूम था कि सड़क के नीचे से पाईप लाईन गई है तो ड्रिल करने के पहले उन्हें नगरपालिका से जानकारी लेनी थी की पाईप लाईन जमीन की कितनी गहराई पर है और उसके बाद ही ड्रिल करना था। अब देखना यह है कि नगरपालिका कम्पनी के खिलाफ क्या कार्रवाई करती है।

छटवें दिन भी बंद रही पेयजल सप्लाई

भीषण गर्मी के दौरान शहर के कई वार्ड पेयजल संकट से जूझ रहे हैं। आज छटवें दिन भी नगरपालिका से पेयजल सप्लाई नहीं हो पाई है जिसके कारण वार्डों में टैंकर से पानी पहुंचाया गया और पानी के लिए नागरिकों की टैंकरों के पास भीड़ लग गई, कई जगह तो लोगों में विवाद की स्थिति भी निर्मित हो गई। दनोरा के पास फोरलेन निर्माण कम्पनी बंसल के द्वारा किए जारहे कार्य के दौरान पाईप लाईन फूट गई थी जिसका सुधार कार्य दो दिन में पूरा तो हुआ, लेकिन टेस्टिंग के दौरान पाईप लाईन फिर से फूट गई जिससे शहर की पेयजल सप्लाई व्यवस्था ठप्प हो गई।

सड़क खोदकर किया गया मरम्मत कार्य | National Highway

बैतूल से इंदौर जाने वाले फोरलेन के एक लेन के नीचे पाईप लाईन लीकेज हो गई थी। बताया जा रहा है कि पहले लीकेज खेत में दिख रहा था और उसके बाद जब तलाश किया गया तो फोरलेन सड़क के नीचे लीकेज पाया गया। इस लीकेज को सुधारने के लिए फोरलेन के एक लेन को तोड़ा गया और उसके बाद लीकेज सुधारा गया। नगरपालिका ने आज शाम तक जल सप्लाई की बात कही है। गौरतलब है कि इस मामले को लेकर बुधवार को कलेक्टर नरेन्द्र कुमार सूर्यवंशी स्वयं दनोरा पहुंचे और निर्देश दिए कि जब तक कम्पनी पाईप लाईन नहीं सुधारती हैतब तक नगरपालिका की टीम मौके पर ही खड़ी रहे। कल शाम को पाईप लाईन सुधर गई और जैसी ही उसकी टेस्टिंग की गई और वैसे ही उसकी रबर फट गई और पानी लीकेज होने लगा।