Kaali Mirch Ki Kheti – काली मिर्च की खेती से किसान होंगे मालामाल, जानिए कैसे करे खेती,

Kaali Mirch Ki Kheti – काली मिर्च की खेती से किसान होंगे मालामाल, जानिए कैसे करे खेती,

Kaali Mirch Ki Kheti काली मिर्च की खेती से किसान कमा सकते है बम्फर मुनाफा, जाने कैसे करे खेती…काली मिर्च भारतीय रसोई का एक प्रमुख मसाला है इसके बगैर हम स्वादिष्ट और लजीज सब्जी की कल्पना भी नहीं कर सकते हैं ऐसे में अगर किसान भाई काली मिर्च की खेती करते है तो ये बंम्फर मुनाफा करवा सकती है, आईये जानते है काली मिर्च की करने का आसान तरीका।

ये भी पढ़े – Rice Price Hike – अब आम जनता को मिलेगी राहत, 29 रूपये प्रति किलो बिकेगा चावल,

काली मिर्च की खेती से किसान होंगे मालामाल

किसान भाइयो जैसा की आप सभी जानते ही होंगे की खाना बनाने के लिए काली मिर्च कितनी जरुरी होती है और ऐसे में इसकी डिमांड साल भर बनी रहती है ऐसे में किसान अगर काली मिर्च की खेती करते है तो बम्फर मुनाफा कमा सकते है।

काली मिर्च कीउन्नत किस्मे

किसान भाइयो काली मिर्च की खेती करने के लिए आपको इसकी उन्नत किस्म के बीज से खेती करना होगा तब आपको इसका उत्पादन अच्छा मिलेंगे वही हम आपको बता दे की काली मिर्च की उन्नत किस्म के बारे में तो श्रीकारा, पंचमी, शुभंकर और पूर्णिमा काली मिर्च की बेहतरीन किस्में हैं और इन किस्मों को राष्ट्रीय मसाला फसल अनुसंधान केंद्र, कालीकट ने ईजाद किया है।

कहा होती है काली मिर्च की खेती

हम आपकी जानकरी के लिए बता दे की काली मिर्च की सबसे अधिक खेती केरल में की जाती है और केरल के बाद कर्नाटक और तमिलनाडु में किसान सबसे अधिक काली मिर्च उगाते हैं लेकिन अब उत्तर और नॉर्थ इंडिया में भी किसानों ने काली मिर्च की खेती शुरू कर दी है।

ये भी पढ़े – King Cobra Ka Video – पंखे पर आराम से बैठा था किंग कोबरा, देख घर वालो की हो गई बत्ती गुल,

काली मिर्च की रोपाई

किसान भाइयो जानकारी के मुताबिक हम आपको बता दे की नारियल और सुपारी के पेड़ों से 30 सेंटीमीटर की दूरी पर गड्ढे खोद लें. फिर गड्ढों में खाद, गोबर और मिट्टी मिलाकर भर दें. इसके बाद आप गड्ढों में बीएचसी पाउडर का छिड़काव कर काली मिर्च की रोपाई कर सकते हैं।

काली मिर्च की कलियों की तोड़ाई

किसान भाइयो हम आपको बता दे की काली मिर्च की कलियों की तोड़ाई करने के बाद पहले उसे धूप में सुखाये जाते है, उसके बाद में दाने निकालने के लिए उसे पानी में कुछ देर के डुबाया जाता है इसके बाद सावधानी से काली मिर्च निकाली जाती है।