Thursday, August 18, 2022
spot_img
HomeबैतूलHouse : हाऊसिंग बोर्ड का मकान लेना है ना...बाबा...ना...!

House : हाऊसिंग बोर्ड का मकान लेना है ना…बाबा…ना…!

लेटलतीफी से बोर्ड का टेमनी प्रोजेक्ट हो गया टांय-टांय फिस्स, हाऊसिंग बोर्ड का मकान लेने वालों के अरमानों पर फिरा पानी

बैतूल(सांध्य दैनिक खबरवाणी) – ”सिर मुंडाते ओले पड़े यह कहावत उन लोगों पर सौ फीसद चरितार्थ हो रही है जिन्होंने होम लोन लेकर हाऊसिंग बोर्ड का टेमनी में मकान बुक कराया था। एक ओर जहां होम लोन की किस्त शुरू हो गई है वहीं मकान का कहीं अता-पता तक नहीं है।

मसलन मकान की नींव खुदाई का काम भी प्रारंभ नहीं हो सका है। कुल मिलाकर हाऊसिंग बोर्ड प्रोजेक्ट के तहत मकान लेने वालों के लिए अब यह गले की हड्डी बन गया है। इस प्रोजेक्ट को लेकर ठेकेदार अधिकारियों पर और अधिकारी ठेकेदार पर दोष मढ़कर अपना पल्ला झाड़ रहे हैं जबकि मकान बुक कराने वालों को आर्थिक मार झेलने को विवश होना पड़ रहा है।

5 साल में भी पूरा नहीं हुआ प्रोजेक्ट

जिला मुख्यालय से करीब 7 किलोमीटर दूर स्थित टेमनी ग्राम में वर्ष 2017-18 में हाऊसिंग  बोर्ड ने अपने प्रोजेक्ट के तहत कालोनी विकसित की थी। इस कालोनी में ईडब्ल्यूएस और एलआईजी टाईप के 133 मकान बनना है। पांच साल बीत चुके हैं बावजूद इसके अभी तक इस प्रोजेक्ट के तहत मकान पूर्ण नहीं हुए हैं। ऐसे में जिन्होंने इस कालोनी में मकान बुक कराया था उन्हें आर्थिक मार झेलने को विवश होना पड़ रहा है बावजूद इसके उनकी कहीं कोई सुनवाई नहीं हो पा रही है।

पूरा पैसा जमा कर दिया लेकिन मकान नहीं मिला

अपना मकान का सपना लेकर जब हाऊसिंग बोर्ड का प्रोजेक्ट टेमनी में लांच हो रहा था तो मकान लेने के लिए लोगों ने तत्काल रजिस्ट्रेशन करा दिए और चार बाद भी उन्हें मकान नहीं मिल रहा है। मकान लेने वाली रूपाली कालभोर के पति नितेश कालभोर ने बताया कि उनकी पत्नी के नाम से 2019 में हाऊसिंग बोर्ड टेमनी में एलआईजी टाईप मकान लेने के लिए 12 लाख 90 हजार रु. पूरे जमा कर दिए। इसके लिए बैंक से होम लोन लिया है। दो साल से किस्त भर रहे हैं लेकिन अभी तक मकान की नींव भरना भी शुरू नहीं हुई है।

ठेकेदार के पास खत्म हो गए पैसे

हाऊसिंग बोर्ड कालोनी के मामले में एक प्रतिष्ठित नाम है और लोगों का इन पर बहुत भरोसा है। इसलिए लोगों ने आंख बंद करके मकान के लिए पैसे जमा कर दिए। लेकिन कालोनी का काम समय सीमा में पूरा नहीं हो पा रहा है। हाऊसिंग बोर्ड के एई प्रदीप कड़वे का कहना है कि ठेकेदार के पास पैसे खत्म हो गए हैं इसलिए काम रूक गया है। उनको पत्र लिखा है कि जल्दी काम पूरा करें और अगर नहीं करते हैं तो उनका टैंडर रिजेक्ट कर नए ठेकेदार को काम दिया जाएगा।

घर का अधूरा रह गया सपना

5 साल बाद भी हाऊसिंग बोर्ड कालोनी का पूरा काम नहीं हो पाया जिसके कारण लोगों के खुद का आशियाना का सपना अधूरा रह गया है। अधिकांश लोगों ने होम लोन लेकर पूरा पैसा भी जमा कर दिया है। होम की किस्त भी प्रारंभ हो गई है बावजूद इसके उनको सपनो के घर का सपना महज सपना बनकर ही रह गया है। कालोनी में 133 में से लगभग 70 मकान की छत डली है और वह भी अधूरे हैं। तो कुछ मकानों की नींव डली है और कुछ मकानों का काम भी शुरू नहीं हुआ। इसके अलावा कुछ लोग ऐसे हैं जिन्होंने होम लोन लेकर पूरा पैसा जमा कर दिया उनके मकान की नींव खुदना भी शुरू नहीं हुई है।

होम लोन खत्म होने वाला है

हाऊसिंग बोर्ड टेमनी में एलआईजी टाईप मकान लेने वाली लता मालवीय के पति नीलेश मालवीय ने बताया कि मकान लेने के लिए 2017 में रजिस्ट्रेशन कराया था और मार्च 2019 को पूरे 12 लाख 90 हजार रु. जमा कर दिए हैं। शर्तों के हिसाब से मार्च 2019 में ही मकान मिलना था। लेकिन अभी तक मकान का काम शुरू नहीं हुआ है। इसको लेकर कई बार हाऊसिंग बोर्ड के अधिकारियों से भी बात कर ली है लेकिन संतुष्टिजनक जवाब नहीं मिल रहा है। 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img

Most Popular

Recent Comments