Betul News – साहब की कुर्सी पर बैठ कर रौब झाड़ने लगी मानसिक बीमार महिला

अधिकारी की कुर्सी पर बैठी, बताया दमोह से हुआ है बैतूल ट्रांसफर  

Betul Newsबैतूल – बैतूल जिले के जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय में उस समय हड़कंप मच गया जब एक महिला खुद को जिला शिक्षा अधिकारी बता कर साहब की कुर्सी पर आ कर के बैठ गई और रौब झाड़ने लगी। मगर जैसे ही इस बात की पड़ताल की गई और इस बात की जानकारी उच्च अधिकारीयों को दी गई तो पता चला की ये महिला मानसिक बीमार है। कड़ी मेहनत मसक्कत के बाद महिला को कुर्सी से हटा कर इस बात की जानकारी पुलिस को दी गई और महिला को पुलिस के हवाले कर दिया गया। 

कार्यालय में मौजूद दूसरे कर्मचारियों ने इस पुरे घटनाक्रम का वीडियो बना लिया जिसमे देखा जा सकता है की नीले कपड़े पहने एक महिला जिला शिक्षा अधिकारी की कुर्सी पर बैठी हुई है। वही महिला के बाजु में बैठे हुए हैं डॉ अनिल कुशवाह जो की बैतूल के जिला शिक्षा अधिकारी हैं। 

जब कुर्सी पर बैठने की वजह महिला से पूछी गई तो उसने बताया की वो जिला शिक्षा अधिकारी  है और उसका ट्रांसफर दमोह से बैतूल हुआ है । इस बात पर महिला से आदेश की कापी मांगी गई तो महिला ने बताया कि भोपाल से आईडी भेज दी गई है जो आप लोगो को प्राप्त हो गई होगी । आगे महिला ने बताया की उसके पति दस्तावेज लेकर के आ रहे है ।

कार्यालय में एकाएक भीड़ इकठ्ठा हो गई महिला को देख कर प्रतीत होता है की वो मानसिक बीमार है। इसी वजह से तुरंत डीईओ कुशवाह ने भोपाल फोन लगाया और सच्चाई के बारे में जानना चाहा, तो पता चला की ऐसा कोई तबादला हुआ ही नहीं है और ना ही इस नाम की कोई महिला डीईओ है। 

जब इस पूरे माजरे की सच्चाई सामने आई तो डीईओ ने पुलिस को इसकी जानकारी दी और महिला को पुलिस के हवाले कर दिया। कोतवाली पहुच कर महिला रोने लगी तब पुलिस को समझ मे आ गया कि महिला मानसिक बीमार है । महिला के फ़ोन से ही उसके भाई को सूचना दी और पूछताछ के बाद जब स्पष्ट हो गया कि वो मानसिक बीमार है तो उसे उसके भाई को सौंप दिया ।

महिला डेस्क प्रभारी अश्विनी चौधरी ने बताया की  कि जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय से सूचना मिली थी कि एक महिला खुद को डीईओ बता रही है थाने पर लाने पर पता चला कि वो मानसिक बीमार है उसके भाई को बुलाकर उसे सौंप दिया। 

इस पुरे मामले को लेकर जिला शिक्षा अधिकारी अनिल कुशवाह ने बताया कि कार्यालय से फोन आया कि एक महिला अपने आप को डीईओ बता कर उनकी कुर्सी पर बैठी है और बोल रही है कि उसका ट्रांसफर दमोह से बैतूल हुआ है पता किया तो ऐसा कुछ नही था महिला की बातों से लगा कि वो मानसिक बीमार है उसे पुलिस को सौंप दिया है।